--Advertisement--

महिलाएं टेलरिंग सीखकर बनेंगी हुनरमंद

जिला प्रशासन द्वारा ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं को रोजगारोन्मुखी शिक्षा देकर आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से...

Dainik Bhaskar

May 25, 2018, 02:00 AM IST
महिलाएं टेलरिंग सीखकर बनेंगी हुनरमंद
जिला प्रशासन द्वारा ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं को रोजगारोन्मुखी शिक्षा देकर आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से निवेकला नवांशहर मुहिम के तहत गांव जोगेवाल व रत्तेवाल में टेलरिंग हुनर स्कूल खोले गए। गांव जोगेवाल के श्री गुरु रविदास मंदिर में सिखलाई स्कूल की शुरूआत डिप्टी कमिश्नर अमित कुमार और गांव रत्तेवाल की धनी नाथ कुटिया में विधायक चौधरी दर्शन लाल मंगूपुर ने सिखलाई स्कूल का उद्घाटन किया।

डिप्टी कमिश्नर अमित कुमार ने निवेकला नवांशहर मुहिम की जानकारी देते हुए बताया कि इस मुहिम में सीएसआर गतिविधियों को प्रोत्साहन दिया जा रहा है। अगर कोई इस मुहिम का हिस्सा बनकर समाज की बेहतरी में योगदान डालना चाहता है तो उसके लिए निवेकला नवांशहर के दरवाजे हमेशा खुले हैं। उन्होंने दोनों सेंटरों के लिए समाजसेवी लाली सैणी द्वारा 10-10 सिलाई मशीनों के योगदान पर उनका आभार जताया। उधर, गांव रत्तेवाल में चौधरी दर्शन लाल मंगूपुर ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि ऐसे प्रयास करना समय की जरूरत है। सरकार के साथ-साथ हमें अपने स्तर पर भी समाज के प्रति जिम्मेदार बनना होगा ताकि हमारी बहनें व बेटियां स्वै रोजगार के काबिल बन सकें। इस दौरान बलाचौर की सीडीपीओ नरेश कौर ने बताया कि उक्त दोनों सेंटरों में 6-6 माह का कोर्स चालू किया गया है, जहां आईटीआई पास इंस्ट्रक्टर मीनू और जसविंदर कौर 30-30 लड़कियों को सिखलाई देंगी। इस मौके पर गांव जोगेवाल के सरपंच श्री राम, सरपंच रत्तेवाल दविंदर बजाड़, डॉ. प्रेम चंद, गिरधारी लाल, स्वामी ज्ञान नाथ आदि मौजूद थे।

गांव जोगेवाल में सिखलाई स्कूल का उद्घाटन करते डीसी अमित कुमार।

X
महिलाएं टेलरिंग सीखकर बनेंगी हुनरमंद
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..