--Advertisement--

पापा- छेती आके लै जाओ, मैनंू मार देना ऐनां ने ऐत्थे

भास्कर संवाददाता | गढ़शंकर/बलाचौर गांव ठठियाला बेट में ससुर ने अपनी दोनाली बंदूक से बहू अनीता रानी (नीतू) की घरेलू...

Dainik Bhaskar

May 31, 2018, 02:05 AM IST
पापा- छेती आके लै जाओ, मैनंू मार देना ऐनां ने ऐत्थे
भास्कर संवाददाता | गढ़शंकर/बलाचौर

गांव ठठियाला बेट में ससुर ने अपनी दोनाली बंदूक से बहू अनीता रानी (नीतू) की घरेलू विवाद के चलते गोली मार हत्या कर दी। मृतिका की शादी डेढ़ साल पहले ही हुई थी तथा उसका पति कमल राणा इटली में रहता है। मृतका के पिता व भाई का आरोप है कि शादी के कुछ दिनों बाद ही अनीता के ससुराल वाले उसे दहेज के लिए तंग करना शुरू कर दिया था। दो बार पुलिस के पास भी भी मामला पहुंंचा था, दोनों बार राजीनामा हो गया था, लेकिन मंगलवार को आरोपी ससुर रतन सिंह किसी बात पर नाराज हो गया और शाम से अपशब्द कहने लगा था रात 10 बजे के करीब अचानक उसने अनीता के कमरे में घुसकर गोली चला दी एक गोली गोली चेहरे और दूसरी छाती पर लगी। अनीता ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। वारदात के वक्त घर में अनीता के अलावा उसकी सास ही थी।

मौके पर डीएसपी बलाचौर अनिल कुमार कोहली और थाना प्रभारी अजय कुमार एसएचओ पहुंचे, उन्होंने शव को कब्जे में ले बलाचौर सरकारी अस्पताल की मोर्चरी में रखवा दिया। पुलिस ने इस मामले में मृतका के पिता गांव पोसी (होशियारपुर) निवासी जसपाल सिंह के बयानों के आधार पर ससुर रतन सिंह व सास शैलिंदरा के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 व 34 के तहत मामला दर्ज किया है। एसएचओ अजय कुमार ने बताया कि रतन सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है।

अनीता

भाई के कार लेने के बाद से ही ससुराल भी कर रहा था कार की डिमांड

अनीता के मायके परिवार का कहना है कि ससुराल वाले उसे दहेज के लिए परेशान करते थे।

ससुर ने बहू के चेहरे और सीने पर 2 गोलियां मारकर की हत्या

मृतका के भाई संदीप ने बताया कि शादी के बाद से ही अनीता के ससुराल वालों ने उसे परेशान करना शुरू कर दिया था। लगभग एक साल पहले जब उसने स्पेन से आकर कार ली थी, तो अनीता का पति भी कार की जिद करने लगा था। उसकी कमल से कार को लेकर लड़ाई भी हुई थी। इसके बाद जब पुलिस के पास शिकायत हुई, तो फिर कमल विदेश चला गया। इसके बाद चार महीने तक सब कुछ ठीक रहा, लेकिन कुछ दिनों से फिर उसकी बहन को ससुराल वाले परेशान करने लगे थे।

अनीता ने पिता से फोन पर बचाने की लगाई थी गुहार | अनीता ने घटना से पांच मिनट पहले ही पिता को फोन कर कहा था कि छेती आके लै जाओ मैनू, मार देना ऐनां ने ऐत्थे। बंदूक डाल कर ससुर घूम रहा है तथा आप बलाचौर से ही किसी को भेज दो। मृतका के भाई ने बताया कि रात करीब 9.44 पर आए इस फोन के चंद मिनट बाद ही उन्होंने अपने एक जानकार को भेजा, लेकिन तब तक अनीता की हत्या हो चुकी थी। उन्होंने वुमन हेल्पलाइन 1091 नंबर पर भी सूचित किया था।

पापा- छेती आके लै जाओ, मैनंू मार देना ऐनां ने ऐत्थे
X
पापा- छेती आके लै जाओ, मैनंू मार देना ऐनां ने ऐत्थे
पापा- छेती आके लै जाओ, मैनंू मार देना ऐनां ने ऐत्थे
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..