Hindi News »Punjab »Banga» संत खुशी राम ने सारा जीवन संगत की सेवा व मालिक की बंदगी में गुजारा

संत खुशी राम ने सारा जीवन संगत की सेवा व मालिक की बंदगी में गुजारा

गांव भरोमजारा में संत बाबा खुशी राम की पुण्यतिथि डेरे के मुख्य सेवादार संत कुलवंत राम की देखरेख में मनाई गई। इस...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 26, 2018, 02:00 AM IST

संत खुशी राम ने सारा जीवन संगत की सेवा व मालिक की बंदगी में गुजारा
गांव भरोमजारा में संत बाबा खुशी राम की पुण्यतिथि डेरे के मुख्य सेवादार संत कुलवंत राम की देखरेख में मनाई गई।

इस मौके पर श्री सहज पाठ के भोग डालने के बाद संत समागम की शुरूआत की गई, जिसमें विभिन्न डेरों से आए संंत-महापुरुषों संत महिंदर पाल, संत निर्मल सिंह, संत जसविंदर सिंह, संत सरूप नाथ, संत महिंदर दास, संत भगत राम गोरायां, संत कपूर दास, संत आत्मा दास, संत तारा चंद संधवां, संत जसवंत सिंह, संत लक्ष्मण दास, संत बाबा जिंदर आदि मौजूद रहे और उन्होंने संगत को आशीर्वाद देते हुए बाबा खुशी राम के दिखाए रास्ते पर चलने की प्रेरणा दी। उन्होंने कहा कि संत बाबा खुशी राम महान तपस्वी तथा नाम के रसिया थे, जिन्होंने पूरा जीवन संगत की सेवा तथा मालिक की बंदगी में गुजारा। हम सभी को उनके जीवन से शिक्षा लेनी चाहिए।

इस मौके पर दलजीत सिंह, ज्ञानी हरपाल सिंह, संत सतनाम दास, संत हाकम दास, बसपा नेता रछपाल राजू, हरबलास बसरा, पूर्व विधायक व बसपा नेता चौधरी मोहन लाल, प्रवीन बंगा, बीबी रचना देवी, जसविंदर ढंडा, पाखर सिंह, अमरजीत कलसी, जीसी खुत्तण, बलवंत राय, मदन लाल, नाजर सिंह, सरवण राम, डा. किरपाल सिंह, सुरिंदर पाल सिंह, इंद्रजीत आदि मौजूद रहे।

संत समागम में मौजूद संंत महापुरुष। -भास्कर

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Banga

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×