Hindi News »Punjab »Banga» दुकानदारों को शनिवार तक कब्जे हटाने का अल्टीमेटम

दुकानदारों को शनिवार तक कब्जे हटाने का अल्टीमेटम

भास्कर संवाददाता | बंगा सिटी शहर के मुख्यमार्ग सहित रेलवे रोड, गढ़शंकर रोड, मुकंदपुर रोड आदि पर दुकानों के बाहर...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 14, 2018, 02:00 AM IST

भास्कर संवाददाता | बंगा सिटी

शहर के मुख्यमार्ग सहित रेलवे रोड, गढ़शंकर रोड, मुकंदपुर रोड आदि पर दुकानों के बाहर सड़क तक सामान लगाने वाले दुकानदारों को प्रशासन ने शनिवार से पहले अतिक्रमण हटाने को कहा है।

इस मामले को लेकर एसडीएम अनमजोत कौर और एएसपी सरताज सिंह चाहल ने संयुक्त रूप से कौंसिल प्रधान रवि भूषण गोयल, पार्षदों, व्यापार मंडल के प्रधान राजेश धुप्पड़ और रेहड़ी यूनियन के प्रधान जग्गू व सोनू के साथ मीटिंग की। एसडीएम अनमजोत ने बताया कि बंगा शहर जालंधर-चंडीगढ़ मुख्यमार्ग पर स्थित है और इस कारण शहर से गुजरने वाले ट्रैफिक का बिना बाधा गुजरना जरूरी है लेकिन देखने में आया है कि शहर के मुख्यमार्गों पर दुकानों के आगे कई फीट तक न सिर्फ रेहड़ियां लगी हुई होती है बल्कि कई दुकानदारों ने भी अपनी दुकानों का सामान कई फीट आगे तक बढ़ाकर रखा होता है। उन्होंने व्यापार मंडल के पदाधिकारियों और रेहड़ी यूनियनों के मेंबरों को कहा कि किसी को भी अतिक्रमण की इजाजत नहीं दी जाएगी। सभी को शनिवार तक सड़कों के दोनों किनारों को पूरी तरह से साफ करना होगा। उन्होंने कहा कि रेहड़ियां कहां लगाई जाएं, इस बारे में भी विचार किया जा रहा है। अतिक्रमण हटाने को लेकर कौंसिल द्वारा मुनियादी भी करवाई जाएगी। मीटिंग में नायब तहसीलदार शीश पाल, पार्षद मोनिका वालिया, हिम्मत तेजपाल, हेमंत चोपड़ा, सुभाष रानी, जीत सिंह, जसविंदर मान, पीडब्ल्यूडी के एसडीओ रमेश कुमार, ईओ राम प्रकाश, एसओ सुरिंदर पाल, एनएचएआई के अधिकारी संजय सिंह और हरकरनदीप सिंह, मार्केट कमेटी के सेक्रेटरी परमजीत सिंह भी मौजूद थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Banga News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: दुकानदारों को शनिवार तक कब्जे हटाने का अल्टीमेटम
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Banga

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×