Hindi News »Punjab »Banga» माहल गहिलां खेतीबाड़ी सभा 41 लाख का शुद्ध मुनाफा कमाकर बनी माडल

माहल गहिलां खेतीबाड़ी सभा 41 लाख का शुद्ध मुनाफा कमाकर बनी माडल

भास्कर संवाददाता | बंगा सिटी जिले की सहकारी बहुउद्देश्यीय खेतीबाड़ी सभा माहल गहिलां सहकारिता का सफल माडल बनकर...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 15, 2018, 02:00 AM IST

माहल गहिलां खेतीबाड़ी सभा 41 लाख का शुद्ध मुनाफा कमाकर बनी माडल
भास्कर संवाददाता | बंगा सिटी

जिले की सहकारी बहुउद्देश्यीय खेतीबाड़ी सभा माहल गहिलां सहकारिता का सफल माडल बनकर उभरी है। सभा अपने 210 करोड़ रुपए के वार्षिक कारोबार के साथ अपने मुनाफे को बरकरार रखते हुए 41 लाख रुपए के शुद्ध मुनाफा में है। इसके अलावा सभा के पास 25.98 करोड़ रुपए के जमा खाते भी चल रहे हैं।

सभा के प्रधान रविंदर सिंह और सचिव हरभजन सिंह ने बताया कि 1936 में रजिस्टर्ड हुई सभा सबसे अग्रणी बहुउद्देश्यीय सहकारी सभा के तौर पर काम कर रही है। उन्होंने बताया कि सभा द्वारा किसानों की जरूरत को मुख्य रखते हुए कृषि औजारों जैसे लैंड लेवलर, हैपी सीडर, रोटावेटर तथा ट्रैक्टर आदि भी रखे जाते है जोकि बहुत ही जायज रेट पर किसानों को किराए पर बिजाई के लिए दिए जाते हैं। उन्होंने बताया कि सभा अपने सदस्यों के हितों को मुख्य रखते हुए बहुत ही कम मुनाफे पर सारा सामान देती है और किसान भी सभा से लिए गए कर्ज को समय पर वापस करने को तरजीह देते हैं। सभा के प्रधान रविंदर सिंह ने कहा कि माहल गहिलां बहुउद्देश्यीय सहकारी सभा के माडल को आधार बनाकर पंजाब की घाटे में चल रही सहकारी सभाओं को मुनाफे में लाया जा सकता है।

सभा के लाभ के बारे में बताते सचिव हरभजन सिंह और अन्य।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Banga

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×