• Home
  • Punjab News
  • Banga News
  • एसडीएम से बोले भारटा-जनमत जुटाने को है भूख हड़ताल
--Advertisement--

एसडीएम से बोले भारटा-जनमत जुटाने को है भूख हड़ताल

भास्कर संवाददाता | बंगा सिटी भगत सिंह और उनके साथियों को शहीद का दर्जा दिलाने व उनके शहीदी दिवस पर देशभर में...

Danik Bhaskar | May 23, 2018, 02:10 AM IST
भास्कर संवाददाता | बंगा सिटी

भगत सिंह और उनके साथियों को शहीद का दर्जा दिलाने व उनके शहीदी दिवस पर देशभर में छुट्टी की मांग को लेकर भूख हड़ताल पर बैठे जबर विरोधी संघर्ष कमेटी के कनवीनर जसवंत सिंह भारटा को भूख हड़ताल समाप्त करने के लिए मनाने को मंगलवार बंगा की एसडीएम सरबजीत कौर खटकड़कलां पहुंचीं। उन्होंने भारटा की मांग को गौर से सुना और कहा कि वह इस बारे में डिप्टी कमिश्नर व उच्चाधिकारियों को अवगत करवाएंगी। वह अपना अनशन खत्म कर दें लेकिन भारटा ने उनकी बात को मानने से इंकार कर दिया। भारटा ने कहा कि वह इस मांग को लोगों तक पहुंचा रहे हैं ताकि जनमत तैयार हो।

बता दें कि जसवंत सिंह ने 20 दिन पहले अपनी मांगों को लेकर संघर्ष शुरू किया था। लगातार दस दिन तक वह धरने पर रहे और उसके बाद उन्होंने अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल शुरू की जोकि मंगलवार को दसवें दिन में प्रवेश हो गई। इस दौरान उनका वजन भी करीब आठ किलो कम हो चुका है। डाक्टर उनकी सेहत पर लगातार नजर रख रहे हैं। भारटा ने कहा कि इस मामले को किसी अंजाम तक पहुंचाने के बाद ही अपनी भूख हड़ताल खोलेंगे। उन्होंने एसडीएम सरबजीत कौर को ज्ञापन भी सौंपा। इस मौके पर गांव खटकड़कलां के सरपंच सुखविंदर सिंह, हरबंस सिंह अड़िका, निर्मल सिंह रीहल, कश्मीरा सिंह मौजूद थे।

भूख हड़ताल पर बैठे जसवंत भारटा एसडीएम सरबजीत कौर को ज्ञापन सौंपते।