--Advertisement--

अमृतबाणी से जुड़ जीवन को सफल बनाएं : संत निरंजन

भास्कर संवाददाता | बंगा सिटी श्री गुरू रविदास वेलफेयर ट्रस्ट सर्कल बंगा की ओर से अमर शहीद संत रामानंद जी की...

Dainik Bhaskar

May 29, 2018, 02:10 AM IST
अमृतबाणी से जुड़ जीवन को सफल बनाएं : संत निरंजन
भास्कर संवाददाता | बंगा सिटी

श्री गुरू रविदास वेलफेयर ट्रस्ट सर्कल बंगा की ओर से अमर शहीद संत रामानंद जी की शहादत को समर्पित 5वें संत सम्मेलन और कीर्तन दरबार का आयोजन स्थानीय अनाज मंडी में किया गया।

डेरा सचखंड बल्लां के मौजूदा गद्दीनशीन 108 संत निरंजन दास जी की सरपरस्ती में करवाए गए आयोजन में संत-महापुरुषों ने मानवता को श्री गुरु रविदास जी की अमृतबाणी से जुड़कर जीवन सफल बनाने का उपदेश दिया। प्रवचन करते हुए 108 संत लेख राज नूरपुर, संत मंगल दास ईसपुर, संत सुखविंदर दास, संत बीबी सुजाता, साईं पपला शाह भरोमजारा, संत हरविंदर दास मलेरकोटला ने कहा कि परमात्मा की बंदगी करने से ही भव सागर से मुक्ति पाई जा सकती है। उन्होंने कहा कि परमात्मा की प्राप्ति के लिए घर-बार छोड़कर जंगलों में जाने की जरूरत नहीं है बल्कि गृहस्थ में रहकर भी प्रभु की बंदगी की जा सकती है। गुरु का वही शिष्य प्रिय होता है और परमात्मा को पा लेता है जो अपने गुरु की आज्ञा का पालन करता है।

समागम की शुरूआत में श्री गुरु रविदास जी की बाणी के भोग डाले गए। उपरांत कीर्तन दरबार सजाया गया। इस मौके पर स्वामी कर्म चंद, कुलवंत कजला, मक्खन सिंह थांदियां, ज्ञानी मेहर सिंह, स्वरम बंगड़, सतपाल साहलों, रोशन छोकरां, चौधरी मोहन लाल, विजय मजारी, संतोख जस्सी, परमजीत महालों, डा. बख्शीश, जनक राहों सहित संगत मौजूद थी।

समागम

बंगा में श्री गुरु रविदास वेलफेयर ट्रस्ट सर्कल की ओर से पांचवां संत सम्मेलन आयोजित

डेरा सचखंड बल्लां की ओर से करवाए संत सम्मेलन में मौजूद संगत।

चेता के फतेहद्दीन दरबार में जोड़ मेला 31 मई को

कटारिया।
गांव चेता के धार्मिक स्थान बाबा फतेहद्दीन दरबार में जोड़ मेले का आयोजन 31 मई को गांववासियों और एनआरआई के सहयोग से करवाया जाएगा। प्रबंधकों ने बताया कि इस दिन दरबार पर झंडा तथा चादर चढ़ाने की रस्म अदा की जाएंगी। 1 जून को धार्मिक व सभ्याचारक स्टेज लगाई जाएगी। जिसमें नामवर गायक कलाकार अपने फन का मुजाहिरा करेंगे। इस मौके गुरमेल सिंह, सरपंच रूप लाल, जसदीप सिंह, हरमेश हीर, परमिंदर हीर, परमजीत सिंह, राजपाल हीर, अजमेर सिंह, ओंकार सिंह, सुखदेव सिंह आदि मौजूद रहे।

X
अमृतबाणी से जुड़ जीवन को सफल बनाएं : संत निरंजन
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..