Hindi News »Punjab »Barnala» दलित संगठन का भारत बंद आज

दलित संगठन का भारत बंद आज

सोमवार को भारत बंद करवाने को लेकर दलित संगठन एक मंच पर एकत्रित हो गए हैं। रविवार को दलित समाज के प्रतिनिधियों ने...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 02:10 AM IST

दलित संगठन का भारत बंद आज
सोमवार को भारत बंद करवाने को लेकर दलित संगठन एक मंच पर एकत्रित हो गए हैं। रविवार को दलित समाज के प्रतिनिधियों ने विभिन्न संगठनों से बैठक कर भारत बंद को सफल बनाने की अपील की। रविवार को जिला पुलिस की ओर से सब डिवीजनों पर फ्लैग मार्च किया गया। आज जिले के सरकारी व निजी स्कूल, कॉलेज बंद रहेंगे और निजी और सरकारी बसें भी नहीं चलेंगी।

कोर्ट के आदेश पर पंजाब भर में इंटरनेट सेवा रविवार रात 11 बजे से लेकर सोमवार देर रात 11 बजे तक बंद रहेगी। इसी तरह पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड ने बच्चों के प्रैक्टिकल परीक्षा के शेड्यूल में भी बदलाव किया है। जिले में सेहत सुविधाओं पर हड़ताल का असर नहीं पड़ेगा।

दलित समाज के दर्जनों संगठन सोमवार सुबह 7 बजे पटियाला गेट स्थित भगवान वाल्मीकि रामायण भवन सरोवर में एकत्रित होंगे, जहां बैठक करने के बाद सुबह 10 बजे शहर में मार्च निकाला जाएगा। कमेटी के प्रधान विजय लंकेश ने बताया कि दलित समाज ने हमेशा हर वर्ग को पूरा सहयोग दिया है इसलिए सभी का फर्ज बनता है कि सभी वर्ग बाजार बंद करके भारत बंद के ऐलान में उनका समर्थन करें। उनका मार्च बिलकुल शांतिपूर्वक होगा।

आदि धर्म समाज, क्रांतिकारी पेंडू मजदूर यूनियन, रेहड़ी यूनियन संगरूर, भगवान वाल्मीकि दलित चेतना मंइनकलाबी लोक मोर्चा पंजाब, दलित वेलफेयर संगठन, बेगमपुरा चैरिटेबल ट्रस्ट शेरपुर, जमीन प्राप्ति संघर्ष कमेटी, श्री गुरु रविदास फेडरेशन, डाॅ. बीआर अंबेडकर वेलफेयर, भगवान वाल्मीकि समाज सभा,श्री गुरु रविदास मंदिर कमेटी,डाॅ. बीआर अंबेडकर रविदास नगर, भगवान वाल्मीकि शक्ति सभा सहित विभिन्न संगठन भारत बंद को अपना समर्थन दे रहे हैं।

रविवार को संगरूर, सुनाम, लहरागागा, खनौरी, दिड़बा, भवानीगढ़, धूरी, मालेरकोटला, अमरगढ़, अहमदगढ़ में पुलिस ने फ्लैग मार्च निकाल लोगों को शांति बनाए रखने की अपील की।

स्कूल-कॉलेज बंद, रात 11 बजे तक इंटरनेट नहीं चलेगा

संगरूर, बरनाला, सुनाम व धूरी में फ्लैग मार्च

संगरूर में फ्लैग मार्च निकाल लोगों को शांति बनाए रखने की अपील करते हुए पुलिस कर्मचारी। -फोटो : भूपिंदर सुनामी

दूसरे जिलों से 400 पुलिस कर्मचारी मंगवाए

दूसरे जिलों से 400 पुलिस कर्मचारी मंगवाए गए हैं। जिले भर में करीब 2 हजार पुलिस कर्मचारी लोगों की सुरक्षा के लिए हर समय तैनात रहेंगे। सभी एसडीएम, डीएसपी व एसएचओ को अलग फोर्स मुहैया करवाई गई है। जिले भर में दलित समाज के प्रतिनिधियों व व्यापार मंडल के प्रतिनिधियों से बैठक कर शांति बनाए रखने की अपील की गई है। मनदीप सिंह सिद्धू, एसएसपी, संगरूर

बरनाला|97795-45100 हेल्पलाइन नंबर किया जारी

बरनाला| एससी व एसटी समुदाय की तरफ से की जा रही देश व्यापी हड़ताल के चलते प्रशासन ने सख्त सुरक्षा के प्रबंध किए हैं। हड़ताल के दौरान प्रदेश सरकार के आदेश से सभी तरह के शिक्षा संस्थान और सरकारी दफ्तर बंद रहेंगें। प्रशासनिक अधिकारियों ने बताया कि किसी भी तरह की अप्रिय घटना से निपटने के लिए 2000 पुलिस कर्मियों का विशेष दस्ता जिले में मौजूद रहेगा। किसी भी घटना की जानकारी देने के लिए विशेष नंबर 97795-45100 जारी किया है। डीसी धर्मपाल गुप्ता व एसएसपी हरजीत सिंह ने लोगों से शांति की अपील की है। रविवार को पुलिस ने फ्लैग मार्च भी निकाला।

बरनाला में रविवार को फ्लैग मार्च निकालती हुई पुलिस।

सभी बाजार रहेंगे बंद , नहीं चलेंगी बसें

आरक्षण पर 50% से कम वाला प्रतिबंध हटाया जाए

आरक्षण पर से 50 फीसदी से कम वाला प्रतिबंध हटाया जाए। जितने एससी,एसटी की संख्या उतना आरक्षण दिया जाए।

आरक्षण राजनीति, शिक्षा, नौकरी व पदोन्नति के अलावा सभी क्षेत्रों में लागू किया जाए।

निकली गई कोई भी पोस्ट में प्रथम आरक्षित हो।

आरक्षण सरकारी प्राइवेट व विदेशी कंपनी में भी लागू किया जाए।

एससी,एसटी प्रतिनिधिओं का चुनाव दोहरी वोट प्रणाली द्वारा हो।

आरक्षण न्यायपालिका, सेना के तीनों अंगों व कार्यपालिका (प्रधानमंत्री कार्यालय, सचिवालय) में भी बराबर हो।

दलित एक्ट में किए गए सभी बदलाव सरकार या न्यायपालिका द्वारा वापस लिया जाए।

हाईकोर्ट, सुप्रीम कोर्ट की हर बैंच में दलित,आदिवासी, अल्पसंख्यक जज यकीनी तौर पर हो।

भूमि का आवंटन दलित/आदिवासी/अल्पसंख्यक में बराबरी किया जाए।

प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री की संख्या के हिसाब से दलित/आदिवासी/अल्पसंख्यक बराबर हों।

सुरक्षा एजेंसियों की सोशल मीडिया पर कड़ी नजर

लोग पूरी तरह से शांति बनाए रखें। सोशल मीडिया पर किसी भी धर्म या समाज के विरुद्ध ऐतराज योग्य पोस्ट न डालें न शेयर करें। सुरक्षा एजेंसियों की सोशल मीडिया पर कड़ी नजर है। अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। किसी को भी माहौल खराब करने की इजाजत नहीं दी जाएगी। घनश्याम थोरी, डीसी, संगरूर

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Barnala

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×