• Home
  • Punjab News
  • Barnala News
  • जिला परिसर के बाहर भी वसूली जा रही पार्किंग फीस
--Advertisement--

जिला परिसर के बाहर भी वसूली जा रही पार्किंग फीस

ट्रैफिक पुलिस के चालान का डर दिखा कर जिला प्रबंधकीय परिसर के पार्किंग के ठेकेदार का कारिंदा सड़क पर खड़े वाहनों से...

Danik Bhaskar | Feb 02, 2018, 02:10 AM IST
ट्रैफिक पुलिस के चालान का डर दिखा कर जिला प्रबंधकीय परिसर के पार्किंग के ठेकेदार का कारिंदा सड़क पर खड़े वाहनों से भी पार्किंग फीस वसूल रहा था। पिछले कई दिनों से ये धंधा सरेआम चल रहा था। जानकारी के अभाव या डर के मारे लोग कुछ नहीं बोलते थे। लेकिन जब एमएलए ने आकर रोका तो करिंदे को माफी मांग कर पीछा छुड़वाना पड़ा। साथ ही आगे से कभी ऐसी गलती नहीं करने का भरोसा दिया। पूरे मामले में एसडीएम ने जांच के आदेश दिए हैं। जांच में अगर अवैध वसूली की बात सही पाई गई तो ठेकेदार को जुर्माना हो सकता है। जिला प्रशासन की तरफ से जिला परिसर के अंदर आने वाले वाहनों की पार्किंग फीस निर्धारित की गई है। परिसर के अंदर आने वाले बाइक को 10 रुपए व गाड़ी को 20 रुपए देने होते हैं।

वसूली

एमएलए ने आकर रोका तो माफी मांगकर छुड़वाया पीछा, एसडीएम ने जांच के आदेश दिए

मीत हेयर सड़क किनारे अवैध पार्किंग वसूली के काम को बंद करवाते हुए।

मामला ध्यान में नहीं है जांच करवाएंगे : एसडीएम संदीप

एसडीएम संदीप कुमार ने कहा कि मामला ध्यान में नहीं है। पार्किंग के नाम पर अवैध वसूली किए जाने के मामले की जांच करवाई जाएगी। अगर ये मामला सही पाया गया तोे‌ ठेकेदार पर नियमों के अनुसार कार्रवाई की जाएगी।

चालान कटने का डर दिखा करते थे अवैध वसूली

हर रोज एक हजार की करते थे अवैध वसूली

जिला प्रबंधकीय परिसर के गेट नंबर एक से लेकर तीन तक साइडों पर रस्सी बांधकर वहां पर वाहन पार्किंग करवाए जाते थे। ये जगह करीब एक हजार फीट तक लंबी है। यहां पर हर रोज कम से कम 100 वाहन खड़े रहते थे। 10 रुपए के हिसाब से इनसे हर रोज एक हजार रुपए वसूले जाते थे। इसके साथ गाड़ियों से प्रति गाड़ी 20 रुपए वसूले जाते थे।

फिर से अवैध पर्ची कटी तो आप करेगी विरोध : एमएलए

हलका बरनाला के एमएलए मीत हेयर ने कहा कि उन्हें बहुत से लोगों ने शिकायत की थी कि इस तरह का काम जिला प्रबंधकीय परिसर के बाहर चल रहा है। एक वार उन्होंने इस काम को बंद करवा दिया है। अगर फिर से ये काम शुरू किया गया तो आम आदमी पार्टी इसका विरोध करेगी। इस के लिए सड़कों पर भी उतरना पड़ा को हम पीछे नहीं हटेंगे।