बरनाला

--Advertisement--

डीसी ने किसानों से गेहूं की नाड़ को आग न लगाने की अपील

डिप्टी कमिश्नर धर्मपाल गुप्ता ने हाड़ी में गेहूं की फसल की कटाई करने के बाद नाड़ को आग न लगाए जाने से रोकने और धुंए के...

Dainik Bhaskar

Apr 17, 2018, 03:10 AM IST
डिप्टी कमिश्नर धर्मपाल गुप्ता ने हाड़ी में गेहूं की फसल की कटाई करने के बाद नाड़ को आग न लगाए जाने से रोकने और धुंए के कारण बढ़ने वाले प्रदूषण की रोकथाम के लिए एक अहम मीटिंग जिला प्रशासनिक कांप्लैक्स के मीटिंग हाल में की। इस मौके पर डिप्टी कमिश्नर धर्मपाल गुप्ता ने बताया कि फसलों की नाड़ को आग लगाने के साथ पैदा होने वाले प्रदूषण के खिलाफ नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) नई दिल्ली की तरफ से इस पर पूर्ण रूप में पाबंदी लगाई हुई है। उन्होंने बताया कि एनजीटी की तरफ से इसका उल्लंघन करने वाले किसानों के खिलाफ सख्त कार्यवाई करने की हिदायतें जारी की गई हैं, जिनमें नाड़ को आग लगाने वाले किसान को भारी जुर्माना करने की भी हिदायत है। डिप्टी कमिश्नर ने जिले अंदर गेहूं के नाड को आग लगाने पर 31 मई, 2018 तक पाबंदी के हुक्म जारी किए हुए हैं। इस मौके पर सहायक डिप्टी कमिश्नर-कम-एसडीएम संदीप कुमार, सहायक कमिश्नर (शिकायतें) डाॅ. हिमांशु गुप्ता, सहायक कमिश्नर मन कंवल सिंह चहल, एसडीअो प्रदूषण बोर्ड विपन उपस्थित थे। (लखवीर)

गांधी शां‍ति अवार्ड के लिए सरकार ने मांगी अर्जियां

बरनाला|भारत सरकार के सांस्कृतिक मामलों के केंद्रीय मंत्रालय की तरफ से साल 2018 के लिए योग्य व्यक्तियों और संस्थाअों को ‘गांधी शां‍ति अवार्ड’ दिए जाने के मकसद से अर्जियाें की मांग की है। इस संबंधित केंद्रीय मंत्रालय की तरफ से प्राप्त पत्र का हवाला देते हुए डिप्टी कमिश्नर धर्मपाल गुप्ता ने बताया कि यह अवार्ड महात्मा गांधी की 125वीं जन्म शताब्दी के मौके पर प्रदान किए जाएंगे और इसमें एक करोड़ रुपए की राशि व साइटेशन शामिल होती है। डीसी धर्मपाल गुप्ता ने बताया कि अवार्ड के लिए योग्य व्यक्तियों, संस्थाअों ने महात्मा गांधी के दिखाए अहिंसा के मार्गों पर चल सामाजिक, आर्थिक और राजसी बदलाव जैसे क्षेत्रों में महत्वपूर्ण योगदान डाला होना जरूरी है। उन्होंने कहा कि इस अवार्ड के लिए अप्लाई करने के लिए ओर ज्यादा जानकारी मंत्रालय की वेबसाइट www.indiaculture.nic.in से भी प्राप्त की जा सकती है। (लखवीर)

X
Click to listen..