• Hindi News
  • Punjab News
  • Batala News
  • यूनियन ने कंडे के नीचे मैगनेट लगाकर ग्राहकों से धोखा कर रहे रेहड़ीवालों को दबोचा, कंडा तोड़ा
--Advertisement--

यूनियन ने कंडे के नीचे मैगनेट लगाकर ग्राहकों से धोखा कर रहे रेहड़ीवालों को दबोचा, कंडा तोड़ा

ग्राहकों से ठगी करने वाले दुकानदारों के खिलाफ अपने स्तर पर इकट्‌ठा होकर लीकवाला तालाब रेहड़ी मार्केट यूनियन ने...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 02:00 AM IST
ग्राहकों से ठगी करने वाले दुकानदारों के खिलाफ अपने स्तर पर इकट्‌ठा होकर लीकवाला तालाब रेहड़ी मार्केट यूनियन ने बुधवार को नापतोल में हेराफेरी करने वाले दुकानदारों को पकड़ने के लिए उनके खिलाफ मोर्चा खोला। इस दौरान दो ऐसे रेहड़ीवालों को पकड़ा गया जो अपने कंडे के नीचे मैगनेट लगाकर कम तोलकर ग्राहकों को ठग रहे थे।

लीकवाला तालाब रेहड़ी मार्केट यूनियन ने बुधवार सुबह के समय फलों की रेहड़ी वाले को पकड़ा। उसने नापतोल वाले कंडे के नीचे मैगनेट लगाया हुआ था और नामालूम कब से ग्राहकों को सामान कम तोलकर दे रहा था। यूनियन ने गोल्ला नामक रेहड़ीवाले को पकड़कर बस स्टैंड चौकी पुलिस को सौंप दिया, जहां पुलिस ने उसे चेतावनी देकर छोड़ दिया है। उसके बाद शाम के समय यूनियन के मेंबरों ने एक बार फिर बेईमान रेहड़ीवालों को पकड़ने के लिए दौरा किया तो इस बार फलों की रेहड़ी लगाने वाले जनकराज हत्थे चढ़ गया। उसने भी नापतोल वाले कंडे के नीचे मैगनेट लगाया हुआ था जो ग्राहकों को धोखा देकर उन्हें कम सामान तोलकर बेच रहा था। यूनियन मेंबरों ने मौके पर उसका कंडा तोड़ दिया और उसे आखिरी बार चेतावनी दी।

मैगनेट इस्तेमाल की वजह से यूनियन द्वारा तोड़ा गया दुकानदार का कंडा।

भास्कर संवाददाता | बटाला

ग्राहकों से ठगी करने वाले दुकानदारों के खिलाफ अपने स्तर पर इकट्‌ठा होकर लीकवाला तालाब रेहड़ी मार्केट यूनियन ने बुधवार को नापतोल में हेराफेरी करने वाले दुकानदारों को पकड़ने के लिए उनके खिलाफ मोर्चा खोला। इस दौरान दो ऐसे रेहड़ीवालों को पकड़ा गया जो अपने कंडे के नीचे मैगनेट लगाकर कम तोलकर ग्राहकों को ठग रहे थे।

लीकवाला तालाब रेहड़ी मार्केट यूनियन ने बुधवार सुबह के समय फलों की रेहड़ी वाले को पकड़ा। उसने नापतोल वाले कंडे के नीचे मैगनेट लगाया हुआ था और नामालूम कब से ग्राहकों को सामान कम तोलकर दे रहा था। यूनियन ने गोल्ला नामक रेहड़ीवाले को पकड़कर बस स्टैंड चौकी पुलिस को सौंप दिया, जहां पुलिस ने उसे चेतावनी देकर छोड़ दिया है। उसके बाद शाम के समय यूनियन के मेंबरों ने एक बार फिर बेईमान रेहड़ीवालों को पकड़ने के लिए दौरा किया तो इस बार फलों की रेहड़ी लगाने वाले जनकराज हत्थे चढ़ गया। उसने भी नापतोल वाले कंडे के नीचे मैगनेट लगाया हुआ था जो ग्राहकों को धोखा देकर उन्हें कम सामान तोलकर बेच रहा था। यूनियन मेंबरों ने मौके पर उसका कंडा तोड़ दिया और उसे आखिरी बार चेतावनी दी।

ठगी रोकने के लिए यूनियन की ओर से लगाया कंडा।

कुछ दुकानदारों के कारण सभी होते हैं बदनाम

यूनियन मेंबर धीरज रिंका, राम जी, कालू, जंग बहादर, बब्बू, रिंका बेदी ने बताया कि ग्राहक अकसर कहते हैं कि बस स्टैंड के नजदीक रेहड़ी वाले दुकानदार सामान के नापतोल में हेराफेरी करते हैं। उन्होंने कहा कि ग्राहकों से हेराफेरी केवल कुछ रेहड़ी वाले ही करते हैं लेकिन ग्राहक ये सोचते हैं कि सभी दुकानदार ग्राहकों से धोखा करते हैं। इस आरोप से बचने के लिए एक अलग से कंडा लगा दिया गया है ताकि ग्राहक सामान तोलकर अपनी संतुष्टि कर सके। आज दो दुकानदारों को चेतावनी दी गई है, अगर फिर भी वे बाज नहीं आए तो उन्हें पुलिस के हवाले किया जाएगा।

तोल में संदेह हो तो यूनियन के कंडे पर तोल लें

लीकवाला तालाब रेहड़ी मार्केट यूनियन ने ग्राहकों से ठगी करने वाले चंद दुकानदारों के कारण समूह दुकानदारों पर लगे कलंक को मिटाने के लिए मंगलवार को एक अहम फैसला लिया था। यूनियन ने मार्केट के अंदर फ्लेक्स नंबर 2 पर एक कंडा लगाया है। उसके ऊपर एक बैनर लगा दिया है कि अगर किसी ग्राहक को दुकानदार द्वारा लिए सामान के तोल में कोई संदेह लगता हो तो वह इस कंडे पर अपना सामान तोल सकता है। अगर सच में तोल कम आता है तो यूनियन मेंबरों से संपर्क करें। उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

मैगनेट से एक किलो सामान में 100-150 ग्राम कम तोल

रेहड़ी वाले दुकानदार ग्राहक को तोल में कम सामान देने के लिए मैगनेट का प्रयोग करते हैं। उन्होंने मैगनेट कंडे के नीचे लगाया होता है, जिस कारण एक किलो सामान में 100 से 150 ग्राम का फर्क हो जाता है। इससे 10 से 15 रुपए तक का फायदा सीधे दुकानदार को होता है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..