• Home
  • Punjab News
  • Batala News
  • आंगनबाड़ी वर्करों/हेल्परों ने मुलाजिमों के दर्जे की मांग पर पंजाब सरकार के खिलाफ की नारेबाजी
--Advertisement--

आंगनबाड़ी वर्करों/हेल्परों ने मुलाजिमों के दर्जे की मांग पर पंजाब सरकार के खिलाफ की नारेबाजी

जेल रोड पर नारेबाजी कर रोष रैली निकालतीं, (मध्य) बटाला में सरकार के खिलाफ नारेबाजी करतीं तथा (दाएं) श्री हरगोबिंदपुर...

Danik Bhaskar | May 02, 2018, 02:00 AM IST
जेल रोड पर नारेबाजी कर रोष रैली निकालतीं, (मध्य) बटाला में सरकार के खिलाफ नारेबाजी करतीं तथा (दाएं) श्री हरगोबिंदपुर में ब्लाॅक प्रधान सरबजीत कौर की अध्यक्षता में सरकार के खिलाफ नारेबाजी करतीं आंगनबाड़ी यूनियन की सदस्य।

भास्कर संवाददाता | गुरदासपुर/बटाला/श्री हरगोबिंदपुर

मंगलवार को ऑल पंजाब आंगनबाड़ी मुलाजिम यूनियन ब्लॉक गुरदासपुर ने लंबित मांगों के संबंध में रोष रैली निकाली। इस अवसर पर आंगनबाड़ी वर्करों ने शहर की सड़कों पर पंजाब सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। ब्लॉक प्रधान गुरप्रीत कौर ने कहा कि यूनियन प्रदेश प्रधान हरगोबिंद कौर की अध्यक्षता में संगठन लंबे समय से संघर्ष की राह पर चला हुआ है। इसी के तहत वित्त मंत्री मनप्रीत बादल के कार्यालय के बाहर लगातार कई दिन से दिन-रात धरना चल रहा है, लेकिन प्रदेश सरकार कान में तेल डालकर जैसे सोई पड़ी है। इस रवैये की वजह से आंगनबाड़ी वर्करों/हेल्परों में आक्रोश है। उन्होंने कहा कि 1975 से काम कर रही वर्करों/हेल्परों की समय की सरकारों ने कभी सार नहीं ली। उन्होंने कहा कि इस धरने में सरकार के आगे मांग उठाई जाती है कि आंगनबाड़ी वर्करों/हेल्परों को सरकारी मुलाजिम का दर्जा दिया जाए। वहीं, जब तक यह फैसला लागू नहीं किया जाता, तब तक प्रदेश के 54 हजार वर्करों/हेल्परों को हरियाणा पैटर्न के आधार पर मान भत्ता दिया जाए। इस मौके पर ब्लॉक प्रधान गुरप्रीत कौर, जनरल सचिव निर्मल कौर, सर्कल प्रधान रीटा, सुरिंदर, सुखबीर कौर, बलविंदर कौर तिब्बड़, हरजिंदर कौर, सुखबीर कौर, सुरिंदर कौर, परमजीत कौर आदि मौजूद थे।

उधर, ऑल पंजाब आंगनबाड़ी मुलाजिम यूनियन की राज्य कमेटी के फैसले के अनुसार ब्लाॅक बटाला द्वारा मांगों को लेकर पंजाब सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया गया। इस दौरान जिला प्रधान कुलमीत कौर करवालिया ने कहा कि यूनियन के राज्य प्रधान हरगोबिंद की अगुवाई में जत्थेबंदी द्वारा पिछले लंबे समसय से संघर्ष किया जा रहा है। बठिंडा में वित मंत्री मनप्रीत सिंह बादल के दफ्तर के आगे लगाए दिन रात धरने को आज 93 दिन बीत गए हैं, लेकिन सरकार ने उनकी कोई बात नहीं सुनी। इस कारण वर्करों और हेल्परों में रोष बढ़ता जा रहा है। इस अवसर पर गुरशरनजीत कौर, अमरिंदरजीत, रणजीत, हरजीत, सुखजिंदर, हरमीत राज, हरजीत अमोनंगल, कुलविंदर कौर, कुलदीप कौर, अमरजीत कौर, जगदीश कौर, मनजीत कौर, कंवलजीत कौर, रजनी, नरिंदर कौर, रजवंत मलकपुर, रजवंत कौर, जसपाल कौर व समूह आंगनबाड़ी वर्कर-हेल्पर मौजूद थी।

इसी प्रकार, आंगनबाड़ी वर्करों और हेल्परों की तरफ से श्री हरगोबिंदपुर में ब्लाॅक प्रधान सरबजीत कौर की अध्यक्षता में पंजाब सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। इस दौरान राज्य प्रधान हरगोबिंद कौर ने कहा कि आंगनबाड़ी वर्करों और हेल्परों द्वारा वित मंत्री मनप्रीत सिंह बादल के दफ्तर के सामने तीन महीनों से अधिक समय से धरना लगाया जा चुका है, लेकिन सरकार ने उनकी कोई बात नहीं सुनी, जिस कारण आंगनबाड़ी वर्करों और हेल्परों में सरकार के प्रति रोष है। इस अवसर पर सरबजीत कौर मीके, भुपिंदर कौर, हरपिंदर कौर, रिंपल कौर, कुलविंदर कौर, गुरमीत कौर, जगतार कौर, राजविंदर कौर, गुरमीत कौर, मनजीत कौर मौजूद थी।

गुरदासपुर

आंगनबाड़ी वर्करों/हेल्परों की मुख्य मांगें

आंगनबाड़ी वर्करों/हेल्परों की मुख्य मांगों में प्री-प्राइमरी कक्षाओं में दाखिल किए 3 से 6 साल के बच्चों को वापस आंगनबाड़ी सेंटरों में भेजा जाए। वहीं, एनजीओ के अधीन चलते आंगनबाड़ी ब्लॉकों को वापस विभाग के अधीन लाया जाए। 1975 से काम करती आ रही वर्करों/हेल्परों को सरकारी मुलाजिम का दर्जा दिया जाए, जब तक ऐसा नहीं होता तब तक पंजाब सरकार राज्य की 54 हजार हेल्परों/वर्करों को हरियाना पैटर्न पर मान भत्ता दिया जाए। एनजीओ अधीन चलते ब्लाकों को वापस विभाग अधीन लाया जाए आिद।

बटाला

श्री हरगोबिंदपुर