Hindi News »Punjab »Batala» केमिस्टों को बेवजह किया जा रहा परेशान : राकेश

केमिस्टों को बेवजह किया जा रहा परेशान : राकेश

बटाला केमिस्ट एसोसिएशन ने सोमवार को एसडीएम कार्यालय बटाला के सुपरिंटेंडेंट को मुख्यमंत्री पंजाब कैप्टन अमरिंदर...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 31, 2018, 02:10 AM IST

  • केमिस्टों को बेवजह किया जा रहा परेशान : राकेश
    +1और स्लाइड देखें
    बटाला केमिस्ट एसोसिएशन ने सोमवार को एसडीएम कार्यालय बटाला के सुपरिंटेंडेंट को मुख्यमंत्री पंजाब कैप्टन अमरिंदर सिंह के नाम मांग पत्र सौंपा। इस दौरान बटाला केमिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष राकेश रामपाल और जनरल सचिव विक्रम सिंह कलसी ने बताया कि वह मिशन तंदरुस्त पंजाब से सहमत हैं कि पंजाब नशामुक्त होना चाहिए लेकिन पुलिस व अन्य सिविल अधिकारी केमिस्टों को चेक करके उन्हें बेवजह तंग कर रहें हैं। नियम के अनुसार उनकी दुकानों को चेक केवल ड्रग विभाग ही कर सकता है, जिस पर उन्हें कोई ऐतराज नहीं है। उन्होंने बताया कि पिछले कुछ समय से पूरे पंजाब के 24 हजार केमिस्टों को अपमानित किया जा रहा है। उन्होंने पहले ही क्षेत्र के पूरे केमिस्टों को निर्देश दिए हैं कि कोई भी केमिस्ट बिना डॉक्टर के पर्ची के दवा न दें। इसके बावजूद भी उनकी दुकानों में भारी मात्रा में पुलिस कर्मियों द्वारा इस अंदाज में छापेमारी करना, एतराज जनक है और यह केवल बटाला में ही नहीं हो रहा बल्कि पूरे पंजाब में दवाइयां की दुकानों पर ऐसा ही हो रहा है। पुलिस, मेडिकल अफसर अथवा अन्य प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा छापेमारी के कारण केमिस्टों के प्रति समाज में एक गलत संदेश जा रहा है जो गलत है। पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा उनकी दुकानों की बेवजह चेकिंग करने की प्रक्रिया उन्हें तंग परेशान कर रही है। वहीं समाज में भी केमिस्टों को प्रतिष्ठा धूमल हो रही है। उन्होंने बताया कि वह पंजाब सरकार से अपील की कि उनकी दुकानों पर पुलिस द्वारा चेकिंग करवाकर उन्हें परेशान न किया जाए। इसके अलावा ई-फार्मेसी पर भी प्रतिबंध लगाया जाए। अगर इस पर प्रतिबंध न लगाया तो समाज में नाजायज ड्रग फिर से आएगी। उन्होंने सरकार से मांग की कि सरकार प्रतिबंधित दवाइयों की इनलिस्टमेंट करके दुकानदारों को दे ताकि दुकानदार उन दवाइयों को अपनी दुकानों में न रखें।

    सुपरिंटेंडेंट को मांग पत्र देते एसोसिएशन के सदस्य। -भास्कर

    केमिस्टों ने मेडिकल स्टोर्स रखे बंद

    भास्कर संवाददाता | बटाला/कलानौर

    पंजाब सरकार द्वारा शुरू कई नशे के खिलाफ मुहिम के तहत पुलिस व स्वास्थ्य विभाग द्वारा मेडिकल स्टोरों में छापेमारी कर बिना वजह तंग परेशान करने के विरोध में कलानौर के समूह मेडिकल स्टोर मालिकों ने मेडिकल स्टोर बंद रख रोष जताया। मेडिकल स्टोर मालिकों का कहना है कि जो मेडिकल स्टोर नशीली दवाएं बेचता है, उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाए, लेकिन जो ईमानदार है उसे बिना वजह तंग परेशान न किया जाए। उन्होंने ऑनलाइन ई-फार्मेसी, पंजाब सरकार के जिला प्रशासन पटवारी, तहसीलदार और अन्य द्वारा कार्रवाई, हर तरह का कानून कैमिस्टों पर थोपना स्वीकार नहीं है। उन्होंने कहा कि केमिस्ट दवा बेचता है न कि नशा, लेकिन अब केमिस्टों को जानबूझ कर बदनाम किया जाने लगा है। प्रशासन नशा बेचने वालों को पकड़ना चाहिए। वहीं, नशा खोरी बंद करने के लिए केमिस्ट सरकार के साथ है। सभी कैमिस्ट नशे के सख्त खिलाफ हैं।

  • केमिस्टों को बेवजह किया जा रहा परेशान : राकेश
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Batala

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×