• Hindi News
  • Punjab
  • Batala
  • युवती भगाने वालों की गिरफ्तारी न होने पर परिवार ने 4 घंटे रोका ट्रैफिक, पिता बोले सूचना देने पर आरोपियों को भगा देती पुलिस
--Advertisement--

युवती भगाने वालों की गिरफ्तारी न होने पर परिवार ने 4 घंटे रोका ट्रैफिक, पिता बोले-सूचना देने पर आरोपियों को भगा देती पुलिस

Batala News - एक सप्ताह पहले युवती को बहला-फुसला कर भगाने के आरोप में नामजद आरोपियों की गिरफ्तारी न होने के रोष में युवती के...

Dainik Bhaskar

Jul 24, 2018, 02:20 AM IST
युवती भगाने वालों की गिरफ्तारी न होने पर परिवार ने 4 घंटे रोका ट्रैफिक, पिता बोले-सूचना देने पर आरोपियों को भगा देती पुलिस
एक सप्ताह पहले युवती को बहला-फुसला कर भगाने के आरोप में नामजद आरोपियों की गिरफ्तारी न होने के रोष में युवती के परिजनों ने घुमान-मेहता रोड पर 4 घंटे चक्का जाम कर पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। वहीं, गुस्साए युवती के परिजनों ने सड़क पर टायर भी जलाए। परिजनों ने आरोपियों की गिरफ्तारी संबंधी कई लोगों पर पैसे लेने और थाना घुमान के एक एएसआई पर कार्रवाई न करने का आरोप भी लगाया है। दूसरी तरफ, हलका विधायक बलविंदर सिंह लाडी ने एसएसपी बटाला को थाना घुमान के एएसआई को लाइन हाजिर करने और आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी करने को कहा है।

गांव भोमा निवासी लड़की के पिता ने बताया कि 16 जुलाई को उनके पड़ोस में रहती मनजीत प|ी सुरिंदर सिंह उनकी लड़की को बहला-फुसला कर अपने साथ ब्यास दवा लेने के बहाने ले गई थी और उसने अपने भांजे जतिंदर सिंह निवासी वीला बज्जु के साथ उसकी लड़की को भगा दिया था। इस संबंधी उन्होंने थाना घुमान पुलिस को शिकायत दी और आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज करने के लिए कहा। थाने में वह अपने साथ गांव के तीन गणमान्य लोगों को ले गए। युवती के पिता ने आरोप लगाया कि उक्त तीनों व्यक्तियों ने उनसे पैसे की मांग की और कहा कि 46 हजार रुपए देने होंगे, फिर मामला दर्ज होगा। उसने उन लोगों को 46 हजार रुपए भी दे दिए। इसके बाद पुलिस ने 21 जुलाई को जतिंदर सिंह, उसके पिता सतनाम सिंह निवासी वीला बज्जु, माता मीतो और मासी मनजीत कौर निवासी भोमा के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया था। लेकिन किसी भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया गया।

आरोप...तीन गणमान्य लोगों ने कार्रवाई करवाने के नाम पर लिए 46 हजार रुपए

युवती के पिता ने बताया कि जब भी पता लगता था कि उनकी लड़की और जतिंदर सिंह गांव आए हैं तो वह पुलिस को सूचना देते। गणमान्यों के साथ थाने में जाते थे, पर पुलिस रेड से पहले ही आरोपियों को सूचित कर भगा देती। 22 जुलाई को पुलिस ने उन्हें 2 बजे थाने में बुलाया और सारा दिन बैठाकर भी उसकी कोई सुनवाई नहीं की और शाम 6 बजे उसे वापस भेज दिया गया। जिसके रोष में समूह साहसी बिरादरी द्वारा रात रविवार रात के समय घुमान-मेहता रोड पर पुलिस के खिलाफ धरना दिया गया और आवाजाही ठप कर दी गई। यह धरना रात साढ़े 10 बजे तक चला। थाना घुमान के एसएचओ ललित शर्मा ने आरोपियों की गिरफ्तारी संबंधी भरोसा दिलाया, जिसके बाद धरना खत्म कर दिया गया। रात को पुलिस को साथ लेकर जतिंदर सिंह की मासी के घर पहुंचे। जहां जतिंदर की मासी पहले ही घर से फरार हो गई, जबकि पुलिस मौसा को पकड़कर थाने ले आई। सोमवार को सुबह थाने आए तो पता चला कि जतिंदर सिंह के मौसा को रात को ही पुलिस ने छोड़ दिया था। इसके बाद गुस्साए बिरादरी के लोगों ने सुबह 8 बजे घुमान-मेहता रोड पुल नहर अठवाल पर धरना दे दिया और आवाजाही ठप कर दी।

गांव भोमा के परिवार ने लोगों के साथ घुमान-मेहता रोड पर चक्का जाम कर दिया। साढ़े 12 बजे ट्रैफिक बहाल हुई।

विधायक बलविंदर ने एसएसपी को फोन कर कार्रवाई के लिए कहा तो धरने से उठा परिवार

धरने पर बैठे लोगों को डीएसपी जैमल सिंह ने आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए भरोसा दिया, पर वे धरने से नहीं उठे। फिर विधायक बलविंदर सिंह लाडी पहुंचे। परिवार से कहा कि जिन लोगों ने पैसे लिए हैं, उन पर कार्रवाई करेंगे। विधायक ने एएसआई को लाइनहाजिर करने और जिन पर केस दर्ज है को गिरफ्तार करने के लिए एसएसपी से फोन पर कहा। इसके बाद करीब चार घंटे बाद साढ़े 12 बजे ट्रैफिक बहाल हुई।

मामा बोला-एक आरोपी पकड़ा तो कुछ लोगों ने भगा दिया

लड़की के मामा ने कहा कि जो व्यक्ति इस मामले में आरोपी हैं, उनको पकड़कर उन्होंने एक दिन कमरे में बंद कर दिया था और पुलिस को सूचित किया। लेकिन पुलिस फिर भी नहीं आई। बाद में गांव के कुछ लोगों द्वारा दरवाजे का कुंडा तोड़कर उन्हें भगा दिया गया। लड़की के ताया ने बताया कि गांव के तीन गणमान्यों द्वारा उनसे 35 हजार रुपए एसएचओ को देने के लिए, 10 हजार रुपए एएसआई को देने के लिए और एक हजार रुपए गाड़ी में तेल डलवाने के लिए गए थे।

आरोप झूठे, लड़के की मौसी को पकड़ लिया है : एसएचओ

थाना घुमान के एसएचओ ललित कुमार ने बताया कि जतिंदर सिंह, उसके पिता सतनाम सिंह निवासी वीला बज्जु, माता मीतो और मासी मनजीत कौर निवासी भोमा के खिलाफ मामला दर्ज कर मनजीत कौर को गिरफ्तार कर लिया गया है। परिवार के लगाए जा रहे आरोप झूठे और बेबुनियाद हैं।

X
युवती भगाने वालों की गिरफ्तारी न होने पर परिवार ने 4 घंटे रोका ट्रैफिक, पिता बोले-सूचना देने पर आरोपियों को भगा देती पुलिस
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..