• Hindi News
  • Punjab News
  • Batala News
  • ठेकेदार सामने आया, बोला- दो साल से नगर कौंसिल को दे रखी है इनोवा, ड्राइवर भी दिया है जिसे हर महीने देता हूं 5200 रुपए वेतन
--Advertisement--

ठेकेदार सामने आया, बोला- दो साल से नगर कौंसिल को दे रखी है इनोवा, ड्राइवर भी दिया है जिसे हर महीने देता हूं 5200 रुपए वेतन

बटाला नगर कौंसिल के प्रधान नरेश महाजन को दी गई इनोवा मामले में वीरवार को गाड़ी प्रदान करवाने वाला ठेकेदार दीपक...

Dainik Bhaskar

Jul 27, 2018, 02:21 AM IST
ठेकेदार सामने आया, बोला- दो साल से नगर कौंसिल को दे रखी है इनोवा, ड्राइवर भी दिया है जिसे हर महीने देता हूं 5200 रुपए वेतन
बटाला नगर कौंसिल के प्रधान नरेश महाजन को दी गई इनोवा मामले में वीरवार को गाड़ी प्रदान करवाने वाला ठेकेदार दीपक महाजन सामने आ गया। पत्रकारों से बातचीत करते हुए ठेकेदार दीपक महाजन ने दावा किया कि उसकी पार्थ एंड कंपनी फर्म फर्जी नहीं है। उसने कंपनी से जुडे़ दस्तावेज भी दिखाए, जिसमें जीएसटी नंबर भी शामिल है।

वहीं, जहां उसका आफिस है, उसका पता भी दिखाया। उसने बताया कि वह इस फर्म में अपना व्यापार भी करता है। उसने एक इनोवा ली थी जो उसने कौंसिल को दी थी जिसके बदले हर माह उसे कौंसिल से पैसों का भुगतान होता आ रहा है। दीपक महाजन ने कहा कि ईओ भूपेन्द्र सिंह की ओर से उन्हें कोई नोटिस नहीं मिला है और न ही आधिकारिक तौर पर वर्कआर्डर रद्द करने का कोई पत्र मिला है।

ठेकेदार ने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि उसे दो साल से अधिक समय हो गया है कौंसिल को इनोवा प्रदान किए हुए। वह नियमों को पूरा करता था, तभी तो एक साल बाद आगे उसका वर्कआर्डर जारी रखा गया। जब उनसे पूछा कि नियम के अनुसार चालक उनकी फर्म ने प्रदान करना था तो उन्होंने कहा कि जब कौंसिल को इनोवा दी थी तो चालक भी दिया था। उसे वह हर माह 5200 रुपए वेतन दे रहे हैं। उन्हें नहीं पता कि कौंसिल का चालक क्यों वाहन चलाता है। किताबों में उनके चालक का वेतन चल रहा है। वह चालक को पेश नहीं कर पाए। उनका कहना था कि उसे सामने लाकर उसकी जान को खतरे में नहीं डाल सकते।

कान्फ्रेंस

नगर कौंसिल प्रधान की इनोवा का मामला, जान को खतरे की आशंका बताकर ठेकेदार ने पेश नहीं किया ड्राइवर को

जानकारी देते ठेकेदार दीपक महाजन।

ईओ ने कहा- फिलहाल वर्कआर्डर रद्द, बाकी बातें जांच के बाद

दो दिन पहले ईओ भूपेन्द्र सिंह ने यह कहकर प्रधान को दी गई इनोवा का वर्कआर्डर रद्द कर किया था कि गाड़ी के ठेकेदार ने तय शर्तों को पूरा नहीं किया है। उन्होंने कंपनी के पते पर कई नोटिस भेजे थे लेकिन डाक विभाग ने लिखित में बताया कि ऐसा कोई पता नहीं है। अब इस बारे में ईओ भूपेन्द्र सिंह का कहना है कि उन्होंने वर्कआर्डर रद्द कर दिया है। बाकी बातों का पता जांच के बाद चलेगा।

इनोवा में ही कार्यालय पहुंचे नगर कौंसिल प्रधान बोले- प्रेस से जल्द बात करूंगा

नगर कौंसिल प्रधान नरेश महाजन अभी भी इनोवा का इस्तेमाल कर रहे हैं। वीरवार को वह इनोवा लेकर कार्यालय आए और कार्यालय के अंदर खड़ी की। प्रधान का कहना है कि इनोवा उन्हें नियमों के अनुसार प्रदान की गई है। वह इस मामले में एक-दो दिन में पत्रकारवार्ता करके अपनी बात रखेंगे।

X
ठेकेदार सामने आया, बोला- दो साल से नगर कौंसिल को दे रखी है इनोवा, ड्राइवर भी दिया है जिसे हर महीने देता हूं 5200 रुपए वेतन
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..