• Hindi News
  • Punjab
  • Batala
  • सेहत विभाग ने जिले के 63 छप्पड़ों में छोड़ी गंबूजिया मछलियां

सेहत विभाग ने जिले के 63 छप्पड़ों में छोड़ी गंबूजिया मछलियां / सेहत विभाग ने जिले के 63 छप्पड़ों में छोड़ी गंबूजिया मछलियां

Batala News - स्वास्थ्य विभाग की ओर से जिले के 63 छप्पड़ों में गंबूजिया मछलियां का पुंग डाला गया है। गंबूजिया मछलियां डेंगू व...

Bhaskar News Network

Aug 03, 2018, 02:25 AM IST
सेहत विभाग ने जिले के 63 छप्पड़ों में छोड़ी गंबूजिया मछलियां
स्वास्थ्य विभाग की ओर से जिले के 63 छप्पड़ों में गंबूजिया मछलियां का पुंग डाला गया है। गंबूजिया मछलियां डेंगू व मलेरिया पैदा करने वाले मच्छरों का लारवा खाती हैं, जिससे यह मच्छर पैदा होने में रोक लगती है। सिविल सर्जन गुरदासपुर डॉ. किशन चंद ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा रणजीत बाग में बने तालाब में इन मछलियों के पूंग को पाला जा रहा है और छप्पड़ों आदि में इन गंबूजिया मछलियों को छोड़ा जाता है, ताकि वहां मलेरिया व डेंगू के मच्छरों का लारवा पनप न सके।

उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा जहां लोगों के घरों की चैकिंग करके उनको जागरूक किया जा रहा है, वहीं अब तक जिले में 63 छप्पड़ों में गंबूजिया मछलियां छोड़ी जा चुकी हैं। सिविल सर्जन ने बताया कि विभाग द्वारा टीमें बनाकर अपने-अपने एरिया का दौरा किया जा रहा है और टीमों द्वारा कूलर, गमले, टायरों और छतों पर पड़े सामान आदि की लगातार चैकिंग की जा रही है। उन्होंने कहा कि काफी समय से खड़े पानी में डेंगू, मलेरिया और चिकनगुनिया का लारवा पैदा होता है और इस मच्छर के काटने से कोई भी व्यक्ति इन बीमारियों की लपेट में आ सकता है। डेंगू और बरसात के मौसम में होने वाली बीमारियों की रोकथाम के लिए जागरूकता बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि अगर कोई पंचायत अपने गांव के छप्पड़ में डेंगू, मलेरिया के मच्छरों के लारवे को पैदा होने से रोकना चाहती है तो वो छप्पड़ में गंबूजिया मछलियों का पूंग डालने के लिए निकटवर्ती सरकारी स्वास्थ्य संस्था में संपर्क कर सकता है। उन्होंने कहा कि जागरूकता और सावधानियों से जिला गुरदासपुर में डेंगू जैसी बीमारियों को फैलने से रोका जाएगा।

X
सेहत विभाग ने जिले के 63 छप्पड़ों में छोड़ी गंबूजिया मछलियां
COMMENT