--Advertisement--

करप्शन / चोरी के मामले में कार्रवाई को 10 हजार की डील, घूस लेते वक्त फंसा पुलिस वाला



a policeman got trapped while taking bribe to solve a theft case
X
a policeman got trapped while taking bribe to solve a theft case

  • 4 माह पहले माछीके में हुए थे 1 लाख 47 हजार के मोबाइल व मोबाइल असेसरीज चोरी
  • पुलिस वाले पर पहचान के बावजूद आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने का आरोप

Dainik Bhaskar

Dec 08, 2018, 01:23 PM IST

मोगा। चोरी के एक मामले में 10 हजार की रिश्वत लेने के बावजूद कार्रवाई नहीं करने और ज्यादा पैसे मांगने वाले पुलिस कर्मचारी का एक वीडियो वायरल हुआ है। पुलिस चौकी बिलासपुर के इस पुलिस मुलाजिम को लोक इंसाफ पार्टी के जिलाध्यक्ष जगमोहन सिंह समाधभाई की अध्यक्षता में कथित तौर पर रिश्वत लेते पकड़ा गया। इसके बाद रिश्वत के पैसे वापस करवा कर माफी मंगवाई गई। बताया जा रहा है कि इस घटना को फेसबुक पेज पर लाइव भी किया गया। हालांकि पुलिस इस मामले में कार्रवाई करने की बात कह रही है।

 

शिकायतकर्ता दुकानदार जोगिंदर सिंह निवासी माछीके ने बताया कि उसने गांव में एक लाख का कर्जा लेकर मोबाइल की दुकान की थी। 4 माह पहले उसकी दुकान से चोरों ने करीब 1 लाख 47 हजार के मोबाइल और असेसरीज चोरी कर ली थी।घटना सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गई। पुलिस ने आरोपियों की पहचान होने के बावजूद कार्रवाई नहीं की। उल्टा उसको ही डराया-धमकाया गया। उससे कार्रवाई करने के बदले रिश्वत के तौर पर 10 हजार रुपए भी लिए गए और कई दिनों से और रिश्वत की मांग की जाने लगी। इस पर उसने लोक इंसाफ टीम के नेता विधायक सिमरजीत बैंस के संज्ञान में मामला लाया, उन्होंने मोगा जिले की टीम को जिम्मेदारी सौंपी। 

 

गुरुवार को ऑपरेशन के तहत टीम द्वारा उसको 3 हजार के नोट दिए गए जो कि जोगिंदर सिंह ने चौकी के मुलाजिम को दिए और लाइव वीडियो बनाते हुए लोक इंसाफ टीम के जिलाध्यक्ष जगमोहन सिंह, जिला प्रेस सचिव निर्मल कलियाण, जोगिंदर सिंह, बलजीत राए, कमलजीत सिंह भागीके की अध्यक्षता में उक्त मुलाजिम से पैसे बरामद किए गए। उक्त नेताओं ने कहा कि अगर पीड़ित को इंसाफ न मिला तो वह सभी प्रूफ लेकर डीजीपी पंजाब के ध्यान में यह मामला लाएंगे। वहीं इस संबंध में बात करने पर डीएसपी निहाल सिंह वाला सुबेग सिंह ने बताया कि वह संबंधित कर्मचारी को नोटिस निकालकर उसके खिलाफ केस दर्ज करने जा रहे हैं। जांच के बाद उचित कार्रवाई अवश्य की जाएगी।

 

चौकी इंचार्ज बोले- दी गई फुटेज की जांच में नहीं मिले चोर: बिलासपुर चौकी इंचार्ज एसएस चहल ने बताया कि गांव माछीके में 24-25 अगस्त 2018 को दुकान में चोरी हो गई थी। दुकानदार ने जो सीसीटीवी कैमरे की फुटेज दी थी, उन व्यक्तियों की जांच की परंतु वे व्यक्ति चोर नहीं थे। साथ ही बताया कि जिला बरनाला के थाना तल्लेवाल में एक व्यक्ति लवप्रीत लवी चोरी के आरोप में पकड़ा गया।

 

तल्लेवाल पुलिस के सामने उसने माछीके में चोरी करने की बात कबूली। सितंबर में लवप्रीत लवी के खिलाफ थाना निहाल सिंह वाला में पर्चा दर्ज किया गया था। लवप्रीत लवी को थाना तल्लेवाल से प्रोडक्शन वारंट पर निहाल सिंह वाला लाया गया था। साथ ही इस संबंध में कार्रवाई जारी थी। इसका मामला एक पुलिस कर्मी के पास था, जो आगे कार्रवाई करने के लिए कथित तौर पर रिश्वत मांग रहा था।

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..