पंजाब / पिलर धंसने से गिरा डेयरी फार्म का शेड, मलबे में दबकर 1 भैंस मरी; 33 अन्य पशु घायल

मालेरकोटला में डेयरी फार्म में मलबे में दबे पशुओं को निकालने की कोशिशों में लगे लोग। मालेरकोटला में डेयरी फार्म में मलबे में दबे पशुओं को निकालने की कोशिशों में लगे लोग।
घटनास्थल जमा मददगार लोगों की भीड़। घटनास्थल जमा मददगार लोगों की भीड़।
घायल पशुओं का उपचार करती डॉक्टर्स की टीम। घायल पशुओं का उपचार करती डॉक्टर्स की टीम।
X
मालेरकोटला में डेयरी फार्म में मलबे में दबे पशुओं को निकालने की कोशिशों में लगे लोग।मालेरकोटला में डेयरी फार्म में मलबे में दबे पशुओं को निकालने की कोशिशों में लगे लोग।
घटनास्थल जमा मददगार लोगों की भीड़।घटनास्थल जमा मददगार लोगों की भीड़।
घायल पशुओं का उपचार करती डॉक्टर्स की टीम।घायल पशुओं का उपचार करती डॉक्टर्स की टीम।

  • मालेरकोटला में दुल्लमा रोड पर स्थित बस्ती वाला में मोहम्मद साबर के डेयरी फार्म में हुआ हादसा
  • स्थानीय पशुपालन विभाग और संगरूर के वेटरिनरी पॉलीक्लीनिक कॉलेज से डॉक्टर्स की टीम मौके पर

Dainik Bhaskar

Jan 22, 2020, 10:33 PM IST

मालेरकोटला (संगरूर). पंजाब के संगरूर जिले में मालेरकोटला स्थित एक डेयरी फार्म का शेड बुधवार को गिर गया। इस घटना के चलते 34 पशु मलबे में दब गए। एक भैंस के मर जाने की जानकारी है। सज्ञथ ही 33 में से 3 पशुओं की और हालत गंभीर है। इस बारे में पता चलने के बाद नजदीकी लोगों ने घायल पशुओं के इलाज के लिए पशुपालन विभाग की टीम को बुलाया गया। प्रशासन की ओर से नायब तहसीलदार नरिन्द्रपाल सिंह वड़ैच ने मौके पर पहुंच कर हादसे और घायल पशुओं के इलाज बारे जानकारी हासिल की और कहा कि डेयरी मालिक को हर संभव मदद की जाएगी।

यह हादसा कस्बा मालेरकोटला में दुल्लमा रोड पर स्थित बस्ती वाला में मोहम्मद साबर का एक डेयरी फार्म पर हुआ है। डेयरी फार्म के मालिक मोहम्मद साबर ने बताया कि सुबह अचानक सारा शेड पशुओं पर आन गिरा। उसने शेड गिरने का कारण अचानक पिल्लर का धंस जाना बताया है, जिसकी खबर नजदीकी मस्जिद के लाउड स्पीकर से लोगों को पता चली। इसके बाद बड़ी संख्या में लोग मलबे के नीचे से पशुओं को बाहर निकालने के लिए पहुंच गए। भारी जद्दोजहद के बाद लोगों ने पशुओं को मलबे के नीचे से निकाला।

दूसरी ओर घायल पशुओं के इलाज के लिए पहुंची पशुपालन विभाग के वेटरिनरी डॉक्टर, वेटरिनरी पॉलीक्लीनिक कॉलेज संगरूर से डॉक्टर संजय कुमार, डॉक्टर सविंद्रपाल और डॉक्टर योगेश भारद्वाज के अलावा स्थानीय वेटरिनरी डॉक्टर हरदिलवीर सिंह, डॉक्टर मोहम्मद शमशाद और डॉक्टर मोहम्मद सलीम के नेतृत्व में पशु पालन विभाग की टीमों ने मौके पर पहुंच घायल पशुओं का इलाज शुरू कर दिया। हालांकि इस दौरान एक भैंस के मर जाने की सूचना है, वहीं 33 में से 3 पशुओं की और हालत गंभीर है।

डिप्टी डायरेक्टर पशुपालन संगरूर डाक्टर केजी गोयल अनुसार उन्हें जैसे ही इस हादसे का पता लगा, तुरंत सब डिवीजन मालेरकोटला के वेटरिनरी डॉक्टर्स की टीम को मौके पर भेजा, वहीं वेटरिनरी पॉलीक्लीनिक संगरूर से भी माहिर डाॅक्टरों की एक टीम मौके पर पहुंच गई है। साथ ही स्थानीय प्रशासन की ओर से नायब तहसीलदार नरिन्द्रपाल सिंह वड़ैच ने मौके पर पहुंचकर हादसे और घायल पशुओं के इलाज के बारे में जानकारी हासिल की और कहा कि डेयरी मालिक को हर संभव मदद की जाएगी।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना