मौसम बदलते ही संक्रमण से बढ़ने लगे आई-फ्लू के मरीज

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 07:35 AM IST

Bhatinda News - मौसम में अचानक परिवर्तन होते ही आई-फ्लू के मरीज बढ़ने लगे हैं। बदलते मौसम में होने वाली बीमारियों का मुख्य कारण...

Bathinda News - as the weather changes transition from infection to i flu patients
मौसम में अचानक परिवर्तन होते ही आई-फ्लू के मरीज बढ़ने लगे हैं। बदलते मौसम में होने वाली बीमारियों का मुख्य कारण संक्रमण है। आंखों में कंजक्टिवाइटिस नामक वायरस की वजह से होने वाली इस समस्या के मरीज सिविल अस्पताल में लगातार बढ़ रहे हैं। नेत्र रोग विशेषज्ञों के अनुसार आम दिनों से इन दिनों में ओपीडी में 150 से अधिक मरीज आ रहे हैं। जिसमें 20 से 25 आई-फ्लू से पीड़ित मरीज लगातार सामने आ रहे हैं। यह नेत्र रोग ज्यादातर धूल भरे मौसम में या नर्म और गर्म मौसम में फैलता है। आई-फ्लू वायरस, बैक्टीरिया और फंगस के संक्रमण की वजह से होता है। आई-फ्लू वैसे तो ज्यादा खतरनाक बीमारी नहीं है, लेकिन आंखों में होने के कारण ये कष्टदायक होता है। ये एक संक्रामक रोग है, जो एक व्यक्ति से दूसरे में बहुत तेजी से फैलता है।

बठिंडा के सिविल अस्पताल मेंे आखों की जांच करते डॉक्टर।

2-3 दिन में ठीक न हो तो नेत्र रोग विशेषज्ञ को दिखाएं

सिविल अस्पताल की ओपीडी में तैनात नेत्र रोग माहिर डाॅ. स्वतंत्र गुप्ता ने बताया कि बचाव ही आसान उपाय है। उन्होंने बताया कि आम तौर पर यह परेशानी 2-3 दिन में ठीक हो जाती है। अगर 2-3 दिन में यह न ठीक हो तो तुरंत नेत्र रोग विशेषज्ञ को दिखाएं। अनदेखी करने या गलत इलाज की वजह से यह रोग आंख की बाहरी परत यानी कोर्निया में भी फैल सकता है।

गर्मी के मौसम में आंखों की सफाई का ध्यान रखें

डाॅक्टर स्वतंत्र गुप्ता के अनुसार गर्मी के मौसम में अपने हाथों को नियमित रूप से साबुन से साफ करते रहें। आंखों की साफ-सफाई का पूरा ध्यान रखें आंखों को ठंडे पानी से बार-बार धोएं। किसी भी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से बचें। डाक्टरों का मानना है कि इस रोग के मरीज आंखों पर बार-बार हाथ न लगाएं। अगर संक्रमित आंख को छुए तो हाथ को अच्छी तरह साफ करें। आंखों का यह संक्रमण आंखों की सफेद सतह की ऊपरी परत में होता है। इससे आंखें लाल हो जाती हैं।

X
Bathinda News - as the weather changes transition from infection to i flu patients
COMMENT