--Advertisement--

बठिंडा / 6 साल में डेढ़ दर्जन एटीएम हैक कर एक करोड़ से ज्यादा लूटे, कंप्यूटर इंजीनियर गिरफ्तार

Dainik Bhaskar

Jan 12, 2019, 04:22 AM IST


कोर्ट ने आरोपी को रिमांड पर भेज दिया। कोर्ट ने आरोपी को रिमांड पर भेज दिया।
X
कोर्ट ने आरोपी को रिमांड पर भेज दिया।कोर्ट ने आरोपी को रिमांड पर भेज दिया।

  • पांच राज्यों की पुलिस को थी तलाश 
  • बठिंडा के आरोपी ने बना रखा था गैंग

बठिंडा. बैंकों के एटीएम हैक कर पासवर्ड लगाकर एक करोड़ से ज्यादा निकालने वाले कंप्यूटर इंजीनियर को उसके साले समेत पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी की पहचान बठिंडा के गांव भगवानगढ़ के भूपिंदर सिंह के रूप में हुई है। आरोपी ने गैंग बना रखा था। आरोपी को उस समय पकड़ा जब वह साले प्रदीप के साथ दिल्ली जा रहा था। वहां से विदेश भागने की तैयारी थी।

 

इसके लिए उसने पासपोर्ट और आधारकार्ड  बरेली से बनवा रखा था। भूपिंदर डेढ़ दर्जन से अधिक एटीएम लूट चुका है। हरियाणा, पंजाब, राजस्थान, उत्तराखंड और गुजरात पुलिस को कई सालों से वांछित था। साले पर आरोप है कि उसने भूपिंदर को पनाह दी। उसे जमानत पर छोड़ दिया। 
 

 

पहली वारदात से खरीदी कार : 
बठिंडा के महाराजा रंजीत सिंह टेक्निकल काॅलेज से बीसीए डिप्लोमा करने के बाद भूपिंदर सिंह ने एक कंपनी में काम किया और उसके बाद उसने बठिंडा अपने चार साथियों के साथ एटीएम रॉबर गैंग बना लिया। उसके साथी बठिंडा के ही हैं हैं। पहली वारदात 6 साल पहले हिसार में की। यहां उसने एटीएम काे हैक करने के बाद पासवर्ड लगाकर लाखों रुपए चुराकर कार खरीदी थी।

 

गंगानगर के 3 एटीएम से ही 50 लाख निकाले थे : भूपिंदर ने देहरादून में एटीएम से 17 लाख, गंगानगर में 3 एटीएम से 50 लाख, बड़ौदा में एक एटीएम से 10 लाख, कोटा में एक एटीएम से 11 लाख के अलावा पंजाब, हरियाणा और उत्तराखंड में डेढ़ दर्जन से अधिक एटीएम लूटे। आरोपी को 2016 में भगोड़ा घोषित किया गया था। कोर्ट ने उसे 14 तक रिमांड पर भेज दिया है।

Astrology

Recommended

Click to listen..