• Hindi News
  • Punjab
  • Bathinda
  • Bathinda News corporation did not succeed in giving expression of interest private contract was given to save the credit

निगम एक्सप्रेशन आॅफ इंटरेस्ट देने में तो कामयाब नहीं साख बचाने के लिए प्राइवेट दिया पशु पकड़ने का ठेका

Bathinda News - 22 जनवरी की हाउस मीटिंग में लावारिस पशुओं के मुद्दे पर जमकर हंगामा होने के बावजूद निगम एक्सप्रेशन आॅफ इंटरेस्ट...

Feb 15, 2020, 07:31 AM IST
Bathinda News - corporation did not succeed in giving expression of interest private contract was given to save the credit

22 जनवरी की हाउस मीटिंग में लावारिस पशुओं के मुद्दे पर जमकर हंगामा होने के बावजूद निगम एक्सप्रेशन आॅफ इंटरेस्ट देने में तो कामयाब नहीं हुआ, लेकिन अब साख बचाने को राजस्थान के एक प्राइवेट ग्रुप को 300 रुपये प्रति पशु के हिसाब से लावारिस पशुओं को पकड़ने का ठेका देकर शहर से पिछले तीन दिनों में 350 पशु हटाने का दावा किया गया है जबकि शहर में लावारिस पशुओं की अनुमानित संख्या 5 हजार के करीब बताई जा रही है। ऐसे में निगम के इस दावे काे सत्ताधारी पार्टी के नेताओं ने ही यह कह खारिज कर दिया है कि शहर की बाउंड्री सील किए बिना पशु खत्म करना संभव ही नहीं है। शहर में अब तक लावारिस पशुओं से टकराकर 22 से अधिक लोग जिंदगी गंवा चुके हैं, लेकिन निगम अभी तक असरदार ढंग से किसी याेजना काे लागू करने में कामयाब नहीं हुअा है जबकि शिअद पार्षद ने कांग्रेस नेताओं पर शहर में लावारिस पशुओं को हटवाने के अभियान पर ब्रेक लगाने के आरोप पुन जड़े हैं जबकि कांग्रेस नेताओं ने उन्हें ही अभियान संभालने का न्याैता दे दिया है।

एक्सप्रेशन आफ इंटरेस्ट लटका, बाउंड्री अाेपन : वीरवार को डीपीआर के माध्यम से प्रशासन व नगर निगम के अधिकारियों का प्रेस रिलीज कर शहर से 350 लावारिस पशु पकड़ने का दावा कर शहर को रिलीफ दिखाने का प्रयास जरूर किया गया, लेकिन सच्चाई यह है कि निगम अभी तक लावारिस पशुओं को पकड़ने को एक्सप्रेशन आफ इंटरेस्ट जारी नहीं कर सका है जिससे शहर के सभी एंट्री प्वाइंट खुले हैं। लावारिस पशुओं से कार दुर्घटनाग्रस्त होने पर बाल-बाल बचे कांग्रेस नेता अनिल भोला कहते हैं कि 2016 में एक्सप्रेशन आफ इंटरेस्ट जारी होना था तथा आज तीन साल बाद भी निगम शहर से पशु खत्म नहीं कर सका। बाउंड्री सील किए बिना पशु शहर से खत्म हो ही नहीं सकते हैं, लेकिन निगम यह समझने को तैयार नहीं है।

कांग्रेस व शिअद नेताओं का एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप

अकाली पार्षद व शहरी प्रधान राजविंदर सिद्धू एडवोकेट कहते हैं करीब छह माह पहले राजस्थान की टीम के सहयोग से उनके वार्ड में दो दिन में 400 लावारिस पशु पकड़ रूमीआना साहिब स्थित गोशाला भेजे थे, लेकिन कांग्रेस नेताओं ने कम पैसे देने का गलत प्रचार कर काम रुकवा दिया गया। कांग्रेस नेता इसमें भी पैसे बनाने के ख्वाब देख रहे हैं। वहीं हाउस में कांग्रेस के नेता विपक्ष पार्षद जगरूप गिल कहते हैं कि अकाली पार्षद बेवजह राजनीतिकरण कर रहे हैं। कांग्रेस पर इल्जाम लगाया जा रहा है तो मात्र नारेबाजी कर गौ सेवा करने वालाें सहित अकाली पार्षद को लावारिस पशुओं की जिम्मेदारी ले लेनी चाहिए, कांग्रेस उन्हें पूरा सहयोग करेगी।


राजस्थान के प्राइवेट ग्रुप को पशु पकड़ने का ठेका

नगर निगम ने एक्सप्रेशन आफ इंटरेस्ट जारी नहीं होने की सूरत में अब राजस्थान के एक प्राइवेट ग्रुप को शहर में लावारिस पशु पकड़ने का काम 300 रुपये प्रति पशु के हिसाब से सौंपा है जिसमें पशु को गोशाला तक भेजने को ट्रक आदि संसाधन भी शामिल हैं। आरटीआई एक्टिविस्ट संजीव गोयल के अनुसार इन पशुओं को बहुत बेदर्दी से लादकर गोशाला में फेंकने जैसा काम होता है तथा हमने वहां बहुत सारे जानवरों को बुरी तरह चोटिल देखा तथा कुछ एक छोटे पशुओं की टांगें टूट गईं थी, जिन्हें यूं ही मरने के लिए छोड़ दिया गया।

आवारा पशु मुक्त हों सड़कें

प्राइवेट पार्टी को लावारिस पशु पकड़ने का काम सौंपा


बठिंडा के सिविल लाइन एरिया में घूमते अवारा पशु।

फायर विगेड मेंे खड़ा पशु पकड़ने वाला वाहन।

Bathinda News - corporation did not succeed in giving expression of interest private contract was given to save the credit
X
Bathinda News - corporation did not succeed in giving expression of interest private contract was given to save the credit
Bathinda News - corporation did not succeed in giving expression of interest private contract was given to save the credit

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना