ई पंजाब पोर्टल से एसोसिएटेड स्कूलों का डाटा लीक, जिले के सरकारी स्कूलों तक पहुंचा

Bathinda News - शिक्षा विभाग अब सरकारी स्कूलों में दाखिला बढ़ाने के लिए स्मार्ट वर्क करते हुए प्राइवेट स्कूलों में पढ़ने वाले...

Mar 27, 2020, 07:30 AM IST
Bathinda News - data from associated schools leaked from e punjab portal reached government schools in the district

शिक्षा विभाग अब सरकारी स्कूलों में दाखिला बढ़ाने के लिए स्मार्ट वर्क करते हुए प्राइवेट स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को साफ्ट टारगेट बना रहा है, इसके लिए प्राइवेसी के नियमों का खुलेआम उल्लंघन कर रहा है। घर-घर जनसंपर्क, विशेषकर स्लम एरिया अथवा झुग्गी-झोपड़ी में रहने वाले शिक्षा से वंचित बच्चों तक पहुंचने की कसरत करने की बजाय पहले से प्राइवेट स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को ही सरकारी स्कूलों में पढ़ने के लिए उकसाया जा रहा है। कंपीटिशन में पैंतरेबाजी अपनाने से प्राइवेट स्कूलों व शिक्षा विभाग के बीच तनाव बढ़ने लगा है।

सर्वशिक्षा अभियान के तहत पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड के सभी स्कूलों को प्री-नर्सरी से 12वीं तक के सभी स्कूलों का डाटा ई-पंजाब स्कूल पोर्टल पर भरना अनिवार्य है। हरेक स्कूल के पास अपना ई मेल आईडी व पासवर्ड होता है जिसके आधार पर ही रिकार्ड में रद्दोबदल की जा सकती है। ई पंजाब स्कूल पोर्टल पर अपलोड तमाम स्कूलों का यह रिकार्ड पूरी तरह से कांफिडेंशियल होता है। निजी व सरकारी स्कूलों का डाटा केवल ई-पंजाब पोर्टल पर ही होता है, इसकी पूरी जिम्मेदारी शिक्षा विभाग की होती है, जिला स्तर पर डीईओ आफिस के एमआईएस अथवा प्रदेश के एमआईएस विभाग ही देख सकता है। स्कूल बंद होने के बावजूद सरकारी स्कूलों में दाखिला प्रक्रिया जारी रखने को शिक्षा विभाग ने प्रदेश के तमाम प्राइवेट एसोसिएट स्कूलों के 65 हजार 536 बच्चों का डाटा लीक कर दिया है और हरेक जिले को उनके एसोसिएट स्कूलों के एक्सेल शीट जारी की गई है। ब्लॉक स्तर पर अध्यापक डेटा में मौजूद बच्चे के अभिभावकों के मोबाइल नंबर पर फोन करके प्राइवेट स्कूल छोड़कर सरकारी स्कूल में दाखिला करवाने को प्रोत्साहित कर रहे हैं। वहीं बठिंडा जिले के प्राइवेट एसोसिएट स्कूल के 16874 बच्चों का डेटा की एक्सेल फाइल हरेक स्कूल मुखिया को भेजी गई है, जिसमें दर्ज अभिभावकों के नंबरों पर अध्यापक लगातार फोन कर रहे हैं।

बच्चों की निजी सूचना सार्वजनिक करना साइबर क्राइम : प्रिंसिपल घई

प्राइवेट एसोसिएट स्कूल एसोसिएशन ने इसे निजी स्कूलों के साथ धोखा करार दिया है। पासा के चेयरमैन प्रिंसिपल जगदीश सिंह घई ने कहा कि बच्चों की निजी सूचना सार्वजनिक करना साइबर क्राइम है। बच्चों की निजी सूचना गोपनीय रखनी चाहिए, प्राइवेट स्कूलों का डाटा लीक करना सरासर गलत तथा कानूनी अपराध है। इसकी पड़ताल करके दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए। ज्वाइंट एक्शन फ्रंट के सचिव शाम लाल सारवाल व हरिओम ठाकुर ने कहा कि एसोसिएट स्कूल हर साल हजारों रुपए सरकार को देते हैं जहां आसपास के जरूरतमंद परिवारों के हजारों बच्चे बेहद वाजिब फीसों में अच्छी शिक्षा ले रहे हैं और परिणाम भी अच्छे रहते हैं। इसके बावजूद शिक्षा विभाग ऐसे कदम उठाकर एसोसिएट स्कूलों को बंद करके सैकड़ों अध्यापकों को बेरोजगार करने पर तुली है।

घटे 4431 प्री प्राइमरी के बच्चे

सरकारी स्कूलों में स्मार्ट क्लासरूम व बाला वर्क के बावजूद 3 साल में प्री प्राइमरी स्कूल के ग्राफ में 4431 कमी आई है। जहां साल 2017-18 में प्री प्राइमरी में 13005 बच्चे थे जोकि 2018-19 में 12903 हो गया तथा इस साल 2019-20 में यह संख्या 8574 तक पहुंच गई है। हालांकि 12वीं तक इस शैक्षिक सत्र में सिर्फ 739 बच्चे ही बढ़े, वर्ष 2018-19 में सरकारी स्कूल के बच्चों का आंकड़ा 127220 थी जोकि 2019-20 में बढ़कर 127959 हुई। हालांकि यह संख्या बीते 2017-19 शैक्षिक सत्र 128468 में से से 1248 कम है।

पिछड़े व बाहरी इलाकों के बच्चों तक नहीं पहुंच

6 से 14 साल तक के बच्चों को शिक्षा का कानूनी अधिकार लागू है और 1 किलोमीटर में स्कूल की शर्त भी पूरा हो रही है लेकिन सही मायनों में शिक्षा से वंचित बच्चों तक अभी भी सरकारी स्कूलों ने पहुंच नहीं बनाई है। शहर के पिछड़े व बाहरी इलाकों के झुग्गी-झोपड़ी के लोगों को अपने बच्चे स्कूलों में दाखिल कराने के लिए समझाने ही नहीं बल्कि ऐसे इलाकों में जाने से हर अध्यापक गुरेज करता है। सिर्फ स्कूल के इर्द-गिर्द फ्लेक्स लेकर घूमने और दीवारों पर लगाने तक ही दाखिला मुहिम सीमित रही है। शहर के धोबियाना बस्ती, बरनाला बाइपास रोड, थर्मल के समीप मलोट रोड, उड़िया बस्ती, खेता सिंह बस्ती, जोगी नगर टिब्बा, ट्रांसपोर्ट नगर की झुग्गियों के अलावा बाहरी बस्तियों के सैकड़ों बच्चे अभी भी स्कूल शिक्षा से वंचित हैं और प्रमुख बाजारों में भीख मांगते, कचरा बीनते और ढाबा पर काम करते हैं।

कंपीटिशन का जमाना है, यह अनुचित नहीं है : डीईओ हरदीप सिंह तग्गड़


शिक्षा विभाग का ई पंजाब पोर्टल

X
Bathinda News - data from associated schools leaked from e punjab portal reached government schools in the district

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना