मातम / दो भाइयों की सड़क हादसे में तो तीसरे की सदमे में गई जान, फिर इकट्‌ठी जली 3 चिताएं

Dainik Bhaskar

Oct 11, 2018, 07:17 PM IST



funeral of three brother same time same place after the double accident
funeral of three brother same time same place after the double accident
funeral of three brother same time same place after the double accident
funeral of three brother same time same place after the double accident
X
funeral of three brother same time same place after the double accident
funeral of three brother same time same place after the double accident
funeral of three brother same time same place after the double accident
funeral of three brother same time same place after the double accident

  • घट लौटते वक्त कार ने मारी थी डीजे वाले दो भाइयों की बाइक को टक्कर, दोनों ने मौके पर तोड़ा दम
  • हादसे की खबर सुन पहले बहन का जेठ हुआ बेहोश, फिर 9 घंटे बाद चचेरे भाई को आया हार्ट अटैक
  • जीजा के बयान के आधार पर केस दर्ज पुलिस ने आरोपी कार चालक को गिरफ्तार किया

मोगा। मोगा जिले में तीन भाइयों की चिताएं एक साथ जली तो पूरा इलाका मातम में डूब गया। इनमें से दो सगे भाइयों की बुधवार रात सड़क हादसे में मौत हो गई थी, वहीं 9 घंटे बाद गुरुवार सुबह इनके चचेरे भाई ने सदमे के मारे दम तोड़ दिया। इसके अलावा जीजा का बड़ा भाई भी बेहोश हो गया, जिसकी जान जाते-जाते बची। फिलहाल मृतक युवकों के जीजा के बयान के आधार पर पुलिस ने सड़क हादसे में जिम्मेदार मान कार को जब्त कर उसके चालक के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

 

मिली जानकारी अनुसार कस्बा को ईसे खां निवासी दो भाई हरजिंदर कालड़ा (40) व छोटा भाई मुकेश (32) धर्मकोट में अरोड़ा साउंड सिस्टम की दुकान चलाते थे। 10 अक्टूबर को दुकान बंद करने के बाद जीजा संदीप ग्रोवर के बड़े भाई संजीव ग्रोवर, जिसकी धर्मकोट में लेडीज सामान की दुकान है, से मिलने चले गए। वहां बैठे-बैठे अचानक तेज हवा चलने लग गई और बारिश की आशंका के चलते दोेनों भाई घर के लिए निकल पड़े। ठीक 10 मिनट बाद धर्मकोट-कोट ईसे खां रोड पर निर्माणाधीन पैलेस के निकट तेज रफ्तार कार ने बाइक को टक्कर मार दी, जिससे दोनों भाइयों की मौके पर ही मौत हो गई। हादसे की जानकारी घर पहुंचते ही दोनों की पत्नियों का रो-रोकर बुरा हाल हो रहा था, वहीं संजीव ग्रोवर को जब हरजिंदर व मुकेश की मौत के बारे में पता चला तो वह भी बेहोश हो गया। रात में वह सामान्य हो गया तो गुरुवार सुबह एक नया बखेड़ा खड़ा हो गया। हरजिंदर व मुकेश का 45 वर्षीय चचेरा भाई प्रदीप कुमार सदमा सहन न करते हुए दिल का दौरा पड़ने से दम तोड़ गया।

 

इस बारे में धर्मकोट के एएसआई लखविंदर सिंह ने बताया कि मृतकों के जीजा संदीप ग्रोवर के बयान पर ढोलेवाला के रहने वाले कार चालक को गिरफ्तार कर, कार को कब्जे में ले लिया गया है। वहीं शवों काे सरकारी अस्पताल में पोस्टमाॅर्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया गया। इसके बाद गुरुवार शाम तीनों भाइयों का कस्बा कोट ईसे खां के श्मशानघाट में एक साथ संस्कार कर दिया गया। वहीं एक ही परिवार के तीन युवकों की मौत से कस्बे में शोक की लहर दौड़ गई।

COMMENT