सूदखोर हैवान / गुंडों के साथ आया पार्षद का भाई, मां-बेटी को गली में कोई बेल्ट से मार रहा था तो कोई लातों से



X

  • शुक्रवार सुबह 11 बजे मुक्तसर के बूढा गुज्जर की है घटना
  • गुंडे मां-बेटी को गली में घसीटकर बेल्ट व लातों से मारते रहे और लोग तमाशा देखते रहे
  • चीखते-चिल्लाते, मदद की गुहार लगाते महज 9 साल के बालक ने कैमरे में कैद की दरिंदगी की कहानी

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2019, 10:49 PM IST

मुक्तसर. मुक्तसर में शुक्रवार को अमानवीय व्यवहार का एक वीडियो सामने आया है। 4 मिनट 9 सेकंड्स के इस वीडियो में साफ देखा जा रहा है कि किस तरह सूदखोर हैवान हो गए और फिर मां-बेटी को सरेआम गली में कोई बेल्ट से तो कोई लातों से मार रहा है। इन गुंडों में एक यहां के पार्षद का भाई भी बताया जा रहा है। इनकी दरिंदगी देखकर लगता ही नहीं, प्रदेश में कानून नाम की कोई चीज भी है। अगर ऐसा होता तो क्या चंद हरे-हरे नोटों के लिए इतनी अमानवियता ये लोग कर पाते।

 

घटना शुक्रवार सुबह 11 बजे मुक्तसर के बूढा गुज्जर की है, जहां पैसों के मामूली लेन-देन को लेकर लोकसभा चुनाव के समय अकाली दल छोड़ कांग्रेस में शामिल हुए वार्ड-29 के पार्षद राकेश चौधरी के भाई व उसके साथियों ने एक महिला और उसकी बेटी को घर से बाहर गली में घसीटकर बुरी तरह बेल्ट और लातों से मारते रहे और लोग तमाशा देखते रहे।

 

9 साल के बालक ने किया कैमरे में कैद

गुंडे पहले लड़की के साथ हैवानियत पर उतरते हैं और फिर मम्मी-मम्मी चिल्लाने पर जब उसकी मां छुड़वाने की कोशिश करती है तो पार्षद का भाई सन्नी चौधरी उसे भी बुरी तरह बालों से पकड़कर घसीटते हुए पानी के गड्‌ढे की ओर धकेलते हुए पीटने लग जाता है। सन्नी कभी महिला के पेट में लात मारता है तो कभी उसके सिर के बाल नोचता है और कभी उसके ऊपर बैठकर उसकी पिटाई करता है। साथ में सन्नी चौधरी का भानजा चमड़े की बेल्ट से मार रहा होता है। दरिंदगी की इस कहानी को चीखते-चिल्लाते, मदद की गुहार लगाते महज 9 साल के बालक ने कैमरे में कैद किया है। बहरहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी है, घायल मा-बेटी अस्पताल में पड़ी कराह रही हैं और सोशल मीडिया पर इस वीडियो को शेयर कर हैवानों को सजा दिलाने की मां कर रहा है।

 

यह है लड़ाई का कारण
पीड़ित मीना के भाई सूरज के अनुसार उन्होंने सन्नी चौधरी से ब्याज पर पैसे लिए थे, जिसे उन्होंने वापिस कर दिया था, लेकिन अब भी 23 हजार रुपए सन्नी चौधरी और मांग रहा है और इसी बात को लेकर उसकी बहन को इस तरह पीटा गया। सूरज ने कहा कि यह बदमाश किस्म के लोग हैं और उन्हें डर है कि यह उनके परिवार का और भी नुकसान कर सकते हैं, इसलिए उन्हें कानून अनुसार सख्त से सख्त सजा दी जाए और इंसाफ दिया जाए।


पहले भी बहुत से मामलों में उछला है चौधरी का नाम
कांग्रेसी पार्षद राकेश चौधरी और उसके भाइयोंं का नाम इससे पूर्व भी कई मामलों में उछल चुका है। नगर कौंसिल में हड्डारोड़ी के एक ठेकेदार की मारपीट के मामले में, बुढा गुज्जर रोड पर एक नौजवान के कत्ल के मामले में भी चौधरी के भाईयों का नाम उछल चुका है।

महिला कमीशन ने भी लिया नोटिस
इस मामले का महिला कमीशन के चेयरमैन नीशा गुलाटी ने नोटिस लिया। जब उनके कार्यालय से संपर्क किया गया तो उन्होंने बताया कि इस मामले में वह पुलिस के संपर्क में है और जिले के पुलिस अधिकारी को हिदायत भी दी गई है कि इस मामले पर जल्द कार्रवाई की जाए।

COMMENT