चंडीगढ़ / 9 साल से सुनवाई कर रहे हैं फिर भी सरकार पीने लायक पानी क्यों नहीं मुहैया करवा पाई: हाईकोर्ट

फाइल। फाइल।
X
फाइल।फाइल।

  • मालवा जाेन में पीने लायक पानी न मिलने पर हाईकोर्ट की कड़ी टिप्पणी, 4 सप्ताह में मांगी  रिपोर्ट

Dainik Bhaskar

Dec 04, 2019, 02:37 AM IST

चंडीगढ़. मालवा जोन में पीने लायक पानी न मिलने पर पंजाब हाईकोर्ट ने टिप्पणी करते हुए कहा कि 9 साल से इस केस की सुनवाई कर रहे हैं फिर भी सरकार लोगों को  पीने लायक पानी क्यों नहीं मुहैया करवा पाई। चीफ जस्टिस रवि शंकर झा वाली पीठ ने कहा कि मालवा जोन के पानी में हाई लेवल यूरेनियम पाया जा रहा है। ऐसे में लोगों को यूरेनियम फ्री पीने लायक पानी मिलना चाहिए। इसके लिए पंजाब सरकार के स्थानीय निकाय विभाग, सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग, जल आपूर्ति व स्वच्छता विभाग, बिजली विभाग और वित्त विभाग के प्रिंसिपल सेक्रेटरी की कमेटी गठित की जाए जो इस समस्या पर विचार करने के बाद तत्काल इसका समाधान लाए और इसे लागू करे। 
 

चीफ सेक्रेटरी से कहा-कोर्ट काे इस मामले में हर हाल में नतीजे चाहिए

खंडपीठ ने कहा कि राज्य के चीफ सेक्रेटरी चाहे तो कोर्ट द्व्रारा गठित कमेटी में किसी सदस्य को जोड़ सकते हैं। कोर्ट को हर हाल में इस मामले में नतीजे चाहिए। सरकार सुनिश्चित करे कि मालवा रीजन में लोगों को पीने योग्य पानी मिले। चीफ जस्टिस की बेंच ने पंजाब सरकार को निर्देश दिए कि कमेटी गठन के बाद लोगों को पीने लायक पानी मुहैया कराने के लिए क्या कदम उठाए गए, इसकी जानकारी दी जाए। इसके लिए चार सप्ताह में कोर्ट को रिपोर्ट दी जाए। 

यूरेनियम को डीएक्टिवेट करने पर करें रिचर्स
कोर्ट ने केंद्र व पंजाब सरकार को पानी में आ रहे हाई लेवल के यूरेनियम को डिएक्टिवेट करने की संभावनाएं तलाशे जाने के निर्देश दिए।  कोर्ट ने कहा कि इस संबंध में रिसर्च वर्क पर भी विचार किया जाए। 
नहर में यूरेनियम फ्री पानी 
सरकार की ओर से कहा गया कि नहर और लेक में यूरेनियम फ्री पानी है। इसका इस्तेमाल किया जा सकता है। बठिंडा नगर निगम को पानी की गुणवत्ता को लेकर पत्र लिखा गया है जिसमें उन कदमों की जानकारी मांगी गई है। 

2010 में की थी याचिका दायर

मालवा जोन में कैंसर के बढ़ रहे मामलों को लेकर वकील बीएस लूंबा ने 2010 में याचिका दायर की थी। इसमें उन्होंने कैंसर के मामलों का कारण वहां पानी का पानी है। 

सूबे में मालवा में सबसे ज्यादा कैंसर के रोगी
गौरतलब है कि  बठिंडा से बीकानेर के लिए खास तौर पर ट्रेन चलती है जिसे कैंसर ट्रेन का नाम दिया गया है। बीकानेर में कैंसर का अस्पताल हैं जहां पूरे राजस्थान से ज्यादा पंजाब के मालवा रीजन के रोगी उपचार के लिए आते हैं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना