ट्विटर वाॅर / सुखबीर बादल ने कहा- विभाग अगर डिटेल नहीं दे रहे ताे अफसराें की सैलरी राेको

मनप्रीत बादल बाएं, सुखवीर बादल दाएं। मनप्रीत बादल बाएं, सुखवीर बादल दाएं।
X
मनप्रीत बादल बाएं, सुखवीर बादल दाएं।मनप्रीत बादल बाएं, सुखवीर बादल दाएं।

  • गैंगस्टर के साथ फोटो काे लेकर सुखबीर बादल और मनप्रीत बादल के बीच ट्विटर वाॅर
  • मनप्रीत का जवाब -'मै केवल वही गंदगी साफ कर रहा हूं जिसे आप छोड़ गए हैं'

Dainik Bhaskar

Dec 13, 2019, 11:23 AM IST

चंडीगढ़. कांग्रेस और अकाली दल में एक गैंगस्टर के साथ फोटो काे लेकर मचे सियासी बवाल के बाद अब शिअद प्रधान सुखबीर बादल और वित्तमंत्री मनप्रीत बादल के बीच सूबे के आर्थिक हालात पर ट्विटर पर वाॅर शुरू हो गया है। इन दोनों दलों के नेताओं के फाॅलोवर्स भी ट्रोल कर रहे हैं।

सुखबीर बादल ने कुछ विभागों में वेतन न दिए जाने को लेकर ट्वीट कर कहा कि पंजाब सरकार की विफलता के कारण यह हालात पैदा हुए हैं। विभाग अगर डिटेल नहीं दे रहा ताे इसमें मुलाजिमों की क्या गलती है। सैलरी राेकनी है ताे अफसराें की राेकाे। सुखबीर ने कहा कि गलती के बाद जिम्मेदारी से बचने के लिए बलि का बकरा खोजा जाता है।

इस पर मनप्रीत बादल ने उन्हें करारा जवाब दिया। सुखबीर के आरोपों पर मनप्रीत ने ट्वीट कर करारा जवाब दिया-'मै केवल वही गंदगी साफ कर रहा हूं जिसे आप छोड़ गए हैं'। छिपे बैंक खातों की संस्कृति, खातों की असल स्थिति को सामने न लाना, राजकोषीय अयोग्यता और चतुराई से तैयार अनुबंधों से पंजाब को चोट पहुंचती है जबकि दूसरे समृद्ध होते हैं।


पंजाब सरकार इस समय वित्तीय संकट से गुजर रही है। पहले कर्मचारियों के वेतन समय पर नहीं मिला। धरने देने व हड़ताल करने पर यह जारी हुआ, मगर बीएंडआर का अभी भी वेतन बकाया है। नगर निगमों व कौंसिलों को मिलने वाली ग्रांट इन एड के 400 करोड़ के ज्यादा के बिल रोक लिए गए। सीवरेज बोर्ड को जाने वाला फंड जारी नहीं हुआ। कर्मचारी सड़कों पर उतरे तो विपक्ष उनके पक्ष में खड़ा हो गया और अब शिअद इस मामले में वित्तमंत्री को घेर रहा है।


2011 में मनप्रीत ने शिअद से अलग हो बनाई थी पीपीपी
मनप्रीत बादल ने 2011 में शिअद-भाजपा सरकार के समय वित्तमंत्री पद से इस्तीफा देकर शिअद छोड़कर पीपीपी पार्टी बना ली थी। 2012 में पीपीपी से लड़े, फिर 2014 में कांग्रेस की टिकट से बठिंडा से सांसद हरसिमरत कौर के खिलाफ चुनाव लड़े। मगर हार गए। 2017 में वह कांग्रेस की टिकट पर चुनाव लड़कर वित्तमंत्री बने। 2019 के लोकसभा चुनाव में सांसद हरसिमरत कौर बादल के खिलाफ चुनाव प्रचार भी किया।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना