संगरूर / 3 दिन से लापता थी विवाहिता, पुलिस ने घर में तूड़ी से निकलवाई लाश



तूड़ी से सुखदीप की लाश निकलवाती पुलिस। तूड़ी से सुखदीप की लाश निकलवाती पुलिस।
X
तूड़ी से सुखदीप की लाश निकलवाती पुलिस।तूड़ी से सुखदीप की लाश निकलवाती पुलिस।

  • हत्या के आरोप में पति, सास, ससुर और देवर गिरफ्तार 
  • पड़ोंसियों को बदबू आई तो शक हुआ

Dainik Bhaskar

Feb 14, 2019, 11:08 AM IST

लहरागागा (संगरूर). गांव नंगला से तीन दिन से लापता विवाहिता की लाश तूड़ी वाले कमरे में छिपाई मिली। मामले का खुलासा बदबू आने पर चला। मायका परिवार ने ससुरालियों पर हत्या कर लाश तूड़ी में छिपाने का आरोप लगाया है।  लहरागागा पुलिस ने मृतका के पति लवप्रीत, ससुर कर्मजीत सिंह, सास सतबीर कौर और देवर सुमनदीप सिंह उर्फ सोनी के खिलाफ केस दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है।  

 

गांव भूटाल के गुरसेवक सिंह ने बताया कि उसकी बहन सुखदीप कौर (24) की शादी 3 साल पहले गांव नंगला के लवप्रीत सिंह से हुई थी। बहन के डेढ़ वर्ष का बेटा भी है। गुरसेवक सिंह के मुताबिक 8 फरवरी को सुखदीप कौर ने उसे फोन किया तो वह रो रही थी। कारण पूछा तो नहीं बताया। उसके बाद उसकी बहन से बात नहीं हुई। 10 फरवरी को ससुराल परिवार का फोन आया कि सुखजीत लापता हो गई है। उसने तुरंत माता- पिता को सुखदीप के ससुराल भेजा। सभी ने सुखदीप की तलाश शुरू कर दी।   

 

गुमराह करने को सोशल मीडिया पर गुमशुदगी की पोस्ट डाली  गुरसेवक सिंह ने बताया कि ससुराल परिवार ने गुमराह करने के लिए सोशल मीडिया पर भी सुखदीप की गुमशुदगी संबंधी पोस्ट भी डाल दी। उनका परिवार नंगला में रहकर सुखदीप को ढूंढने लगे, परंतु पता नहीं चला।  
 

बदबू आई तो पता चला : गुरसेवक ने बताया कि बुधवार को बदबू आई तो शक हुआ। ससुराल परिवार पर दबाव बनाने पर उन्होंने मान लिया कि  सुखदीप को मारकर तूड़ी में छिपा दिया है। मौसा शेरा सिंह ने आरोप लगाया कि लवप्रीत के हाथों पर नाखून के निशान देख शक हुआ था लेकिन लवप्रीत ने चैन लगने का बहाना बना दिया। उन्होंने आरोप लगाया कि लवप्रीत ने  पिता कर्मजीत सिंह, मां सतबीर कौर, भाई सुमनदीप सिंह के साथ मिल सुखदीप का गला तार से घोंटा।

COMMENT