--Advertisement--

अलर्ट जारी / आतंकी मूसा को पकड़ने के लिए दूसरे दिन भी ममदोट के पास जंगल में चला सर्च अभियान



जाकिर मूसा की जंगल में तलाश करते हुए कमांडो फोर्स के जवान। जाकिर मूसा की जंगल में तलाश करते हुए कमांडो फोर्स के जवान।
X
जाकिर मूसा की जंगल में तलाश करते हुए कमांडो फोर्स के जवान।जाकिर मूसा की जंगल में तलाश करते हुए कमांडो फोर्स के जवान।

  • बठिंडा और फिरोजपुर जिले में हो सकता है कश्मीरी आतंकी
  • सैकड़ों पुलिस जवानों, कमांडो, महिला फोर्स और डॉग स्क्वायड के साथ अधिकारियों ने चलाई मुहिम

Dainik Bhaskar

Dec 07, 2018, 07:45 AM IST

ममदोट. घाटी में सक्रिय आतंकी जाकिर मूसा के मालवा में घुस जाने के इनपुट मिलने के बाद जिला पुलिस ने वीरवार को भी ममदोट के आस-पास के क्षेत्र में बड़े स्तर पर सर्च अभियान चलाया। बुधवार को बस्ती गुलाब वाली में सर्च अभियान चलाकर घर-घर की तलाशी ली गई थी और वीरवार को गांव चक घोड़े वाला के जंगलात में पुलिस ने सर्च अभियान चलाया।

 

इस सर्च अभियान में करीब साढ़े तीन सौ पुलिस कर्मी शामिल रहे। आतंकी के यहां होने की संभावना को लेकर पुलिस सर्च अभियान में किसी प्रकार की कोर-कसर नहीं छोड़ रही। पुलिस अधिकारियों के अलावा खुफिया तंत्र भी पल-पल की खबर ले रहा है।  

 

वीरवार को जिला पुलिस के एसपी मनमिंद्र सिंह के नेतृत्व में डीएसपी देहाती लखबीर सिंह ने पुलिस के सैकड़ों जवानों के साथ सर्च अभियान चलाया। सर्च अभियान में इंटेलिजेंस, कमांडो व महिला पुलिस के जवान भी शामिल थे। इससे पहले बुधवार को पुलिस द्वारा ममदोट के नजदीकी गांव बस्ती गुलाब सिंह वाला में पाकिस्तानी सिम की लोकेशन मिलने पर बड़े स्तर पर सर्च अभियान चलाया गया था।

 

इसका नेतृत्व खुद आईजी फिरोजपुर मुखविंदर सिंह छीना ने किया था। बुधवार देर रात तक चले इस अभियान में पुलिस के हाथ कुछ नहीं लगा। हालांकि पहले यह खबर आई थी कि पुलिस ने एक संदिग्ध को उठाया है लेकिन आईजी ने इसका खंडन किया था। 
 

1083 एकड़ में फैला है जंगल, दो-तीन दिन और चल सकता है सर्च अभियान :

वीरवार को ममदोट के साथ सटे पंजाब के दूसरे बड़े वन जिस का रकबा 1083 एकड़ है, को पुलिस ने सुबह 10 बजे घेर लिया। पुलिस के साथ मेटल डिक्टेटर टीम, डॉग स्क्वायड व अन्य एजेंसियों के कर्मी भी मौजूद रहे। टीम की ओर से वन में कुछ खंडहर पड़ी इमारतों के अलावा अन्य जगह की गहन जांच की गई।

 

इस के बाद पुलिस के जवान पूरे वन में फैल गए व वन का चप्पा-चप्पा छान मारा। देर शाम तक पुलिस के हाथ खाली थे। सूत्रों ने बताया कि देर रात्रि पुलिस को इनपुट मिला था कि चक्क सरकार के वन में आतंकी जाकिर मूसा छिपा हो सकता है।

 

इसके बाद थाना कुलगड़ी, थाना घल खुर्द, थाना आरिफ के व थाना तलवंडी भाई के थाना प्रभारी पुलिस फोर्स के साथ तलाशी अभियान में जुट गए। यह सर्च अभियान दो-तीन दिन और चलने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता। उधर, फिरोजपुर शहर व छावनी में पुलिस ने नाकाबंदी कर वाहनों व शकी लोगों की तलाशी ली। जिले में पुलिस को अलर्ट पर रखा गया है।

 

सिख के भेष में हो सकता है :

कश्मीरी आतंकी जाकिर मूसा के बारे में  इंटेलीजेंस की मिली रिपोर्टों के आधार पर पंजाब के दो जिलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है। इंटेलीजेंस की रिपोर्ट में कहा गया है कि मूसा पंजाब के बठिंडा और फिरोजपुर में छिप सकता है। इसके बाद से सुरक्षा एजेंसी अलर्ट हो गई है।  

 

इंटेलीजेंस की रिपोर्ट में सलाह दी गई है कि मूसा अपना भेष बदलने के लिए दीढ़ी मूंछ और पगड़ी पहने हो सकता है। सुरक्षा एजेंसियों ने मूसा के पोस्टर भी जारी किए है। जिसमें उसकी वेशभूषा और दाढ़ी मूछों के साथ पगड़ी पहने हुए की फोटो भी है। इससे पहले भी मूसा के पोस्टर गुरदासपुर और अमृतसर में लगाए गए थे। बता दें कि आतंकी बनने से पहले मूसा मोहाली के पास वर्ष 2010 से 2013 तक एक शिक्षण संस्थान का छात्र रहा है।

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..