बेरहम मां / प्रेम संबंधों में डेढ़ साल की बच्ची बन रही थी रोड़ा, मां और प्रेमी ने पेट में घूंसे मारकर हत्या कर दी



बच्ची की फाइल फोटो। बच्ची की फाइल फोटो।
X
बच्ची की फाइल फोटो।बच्ची की फाइल फोटो।

  • बच्ची मां-मां चिल्लाती रही; दोनों पेट में घूंसे मारते रहे
  • अवैध संबंध के शक में पति ने 2 माह पहले पंचायत में दिया था तलाक

Dainik Bhaskar

Oct 13, 2019, 02:50 AM IST

मालेरकोटला (संगरूर). प्रेम संबंध में रोड़ा बन रही एक मां ने प्रेमी संग मिलकर उसके कमरे में अपनी डेढ़ साल की बच्ची को पीट-पीट कर मार डाला। इसके बाद पुलिस की आंखों में धूूल झोकने के लिए अारोपी मां ने झूठी कहानी गढ़ दी। पहले कहा, बच्ची जालंधर बस स्टैंड पर गिरी है फिर कहा, लुधियाना बस स्टैंड पर बस से गिरकर जख्मी हुई है। लेकिन आरोपी महिला के पति की शिकायत के बाद पुलिस जांच में सच सामने आ गया। एसएचओ दीपइंदर सिंह जेजी ने बताया कि आरोपी प्रेमी नवी मार्केटिंग का काम करता है। उसका आरोपी महिला के परिवार में आना- जाना था। जहां दोनों के संबंध बने थे। दोनों आरोपी मामला दर्ज होने के बाद से फरार हो गए हैं।

लुधियाना के गांव जीरख निवासी जगदीप सिंह ने मालेरकोटला पुलिस को दी शिकायत में बताया है कि वह लुधियाना में नौकरी करता है। 3 साल पहले उसकी शादी लुधियाना के गांव रामगढ़ सरदारा की मनदीप कौर से हुई थी। डेढ़ साल पहले घर में एक बेटी पैदा हुई थी। शादी के एक वर्ष बाद ही उसका पत्नी के साथ झगड़ा होने लग पड़ा था। उसे शक था कि पत्नी के मालेरकोटला के नवी के साथ नजायज संबंध हैं। इस वजह से दो माह पहले उसका पत्नी के साथ पंचायती तौर पर आपसी तलाक हो गया था। वहीं, डेढ़ साल की बेटी साहिब जोतकौर को मनदीप ने अपने पास रख लिया था।  
 

शुक्रवार सुबह सूचना मिली कि बच्ची साहिबजोत कौर की हालत नाजुक है
शिकायतकर्ता पति ने बताया कि शुक्रवार सुबह 6 बजे उसे पता चला कि बेटी साहिबजोत कौर की सेहत नाजुक है। इसके बाद वह पुलिस को साथ लेकर गांव रामगढ़ सरदारा चला गया। वहां देखा तो बेटी मृत पड़ी थी। इसके बाद शव को सिविल अस्पताल लुधियाना ले जाया गया। बाद में उसे पता चला कि मनदीप कौर अपने बेटी को साथ लेकर वीरवार को नवी के पास मालेरकोटला गई थी। वहां पर ही बेटी की मौत हुई है। उसे शक था कि मनदीप कौर व नवी ने ही साहिबजोत कौर की हत्या की है।

 

ऐसे हुआ शक: मां ने दो बार बयान बदले, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मिले चोट के निशान

  • पति के शक पर मौके पर पहंुची पुलिस ने जांच की तो आरोपी मां ने पहले बताया कि बच्ची जालंधर बस स्टैंड पर गिर गई थी।
  • इसके बाद बयान बदलते हुए कहा कि नहीं बच्ची लुधियाना में बस से गिर गई थी। इस कारण चोटें लगी थीं। 
  • पुलिस ने बच्ची का लुधियाना में डाॅक्टरों के पैनल से पोस्टमार्टम करवाया तो  रिपोर्ट में पाया गया कि बच्ची के शरीर में 13 गंभीर चोट के निशान थे जो कि बच्ची की मौत का कारण बने। 
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना