सुबह ही तख्त साहिब पहुंचने लगी संगत, सरोवर में स्नान करके गुरुद्वारा साहिब में माथा टेका

Bathinda News - सिख धर्म में चालीस मुक्ताें की याद को समर्पित कर मनाए जाते माघ के पहले दिन के पवित्र दिवस मौके श्री मुक्तसर साहिब...

Jan 15, 2020, 08:25 AM IST
सिख धर्म में चालीस मुक्ताें की याद को समर्पित कर मनाए जाते माघ के पहले दिन के पवित्र दिवस मौके श्री मुक्तसर साहिब के बाद मालवा में दूसरा बड़ा जोड़ मेला हर साल की तरह इस बार भी तख्त श्री दमदमा साहिब में श्रद्धा और उत्साह के साथ मनाया गया। ठंड के बावजूद मंगलवार सुबह से ही संगत ने तख्त श्री दमदमा साहिब पहुंच कर पवित्र सरोवरों में स्नान करने के उपरांत गुरुद्वारा साहिब में माथा टेका।

ढाडी दरबार में ढाडी जत्थों ने संगत को माघ के पहले दिन के इतिहास से अवगत करवाया। तख्त साहिब के ग्रंथी आलम सिंह ने संगत को टूटी जड़ के इतिहास बारे में बताते हुए सिख शहीदों के जीवन मार्ग पर चलने की अपील की। तख्त साहिब के मैनेजर परमजीत सिंह ने बताया कि तख्त साहिब पर अलग-अलग पदार्थों के लंगर शिरोमणि कमेटी और दूसरे सिख संस्थाओं की तरफ से लगाए गए हैं और संगत के रहने के लिए भी विशेष के प्रबंध किए गए। तख्त साहिब पर इस मौके अमृत संचार भी हुए। दूसरी तरफ इलाके की प्रसिद्ध धार्मिक संस्था गुरु:बुंगा मस्तूआणा साहिब में भी धार्मिक समागम हुए। प्रमुख बाबा छोटा सिंह और मुख्य प्रबंधक बाबा काका सिंह ने संगत को माघ के पहले दिन के पवित्र दिवस पर सामाजिक बुराइयों के खात्मे का प्रण करने के साथ-साथ शब्द गुरु श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी के लड़ लगने के लिए प्रेरित किया। उधर, निहंग सिंहों की सिरमौर जत्थेबंदी शिरोमणि पंथ अकाली बूढ़ा दल (96 करोड़ी) के मुख्य स्थान गुरु:बेर साहब देगसर साहिब में भी बूढ़ा दल प्रमुख बाबा बलबीर सिंह के निर्देश और बाबा अर्जुनदेव सिंह शिवजी के नेतृत्व में ढाडी दरबार लगाया गया।

तख्त श्री दमदमा साहिब में श्रद्धा और उत्साह के साथ मनाया माघी का त्याेहार

तख्त श्री दमदमा साहिब तलवंडी साबो में माघी पर गुरुद्वारा साहिब में भारी संख्या में संगत ने नतमस्तक होकर माथा टेका

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना