दिन में स्कूल, रात को चोरी

Bathinda News - 12वीं के स्टूडेंट ने नशे की पूर्ति के लिए वाहन चोरी करना शुरू कर दिया। नशे की लत बढ़ती गई तो उसने एक गैंग बना लिया और...

Nov 11, 2019, 07:36 AM IST
12वीं के स्टूडेंट ने नशे की पूर्ति के लिए वाहन चोरी करना शुरू कर दिया। नशे की लत बढ़ती गई तो उसने एक गैंग बना लिया और गैंग के मेंबराें से मिलकर उसने शहर में 15-20 के करीब वारदातों को अंजाम दिया। सीआईए-2 की पुलिस ने गिरोह का पर्दाफाश करते हुए गैंग से चोरी के 15 माेटरसाइकिल बरामद किए हैं और 300 ग्राम नशीला पाउडर बरामद किया है। आरोपियों की पहचान गुरप्रीत सिंह वासी गली नंबर 6 गोपाल नगर बठिंडा, रेशम िसंह उर्फ रेशू वासी गांव लहरी तलवंडी साबो, गगनप्रीत सिंह उर्फ गगना वासी पत्ती दंदू गांव मलण मुक्तसर व जसविंदर सिंह उर्फ जंगू वासी कोठे अमरगढ़ वासी गांव मलण मुक्तसर के तौर पर हुई है। गुरप्रीत सिंह गिरोह का मास्टर माइंड है और जाे गुरु काशी पब्लिक स्कूल में 12वीं कक्षा की पढ़ाई कर रहा है। इसके अलावा रेशम सिंह मजदूरी करता है तो गगनप्रीत सिंह आईटीआई में प्लंबर का कोर्स करता है। वहीं जसविंदर सिंह खेतीबाड़ी करता है। सभी के खिलाफ थाना सिविल लाइन में मामला दर्ज कर लिया है।

मास्टर चाबी की मदद से वाहनों को चुराते थे : ये लोग मास्टर चाबी की मदद से वाहनों को चुराते थे। एसपी डी गुरविंदर सिंह संघा ने बताया कि एचएसपी डाॅ. नानक सिंह की ओर से असामाजिक तत्वों के खिलाफ चलाई मुहिम के तहत डीएसपी सिटी-2 आशवंत सिंह के नेतृत्व में सीआईए-2 के एसआई अवतार सिंह ने पुलिस पार्टी के साथ रिंग रोड पर मिलिट्री एरिया भागू टीसीपी के पास एक बाइक सवार दो युवकों को शक के आधार पर रोककर उनकी तलाशी ली तो उनके पास से 300 ग्राम नशीली पाउडर बरामद किया। अारोपियों की पहचान गुरप्रीत सिंह व रेशम सिंह उर्फ रेशू के तौर पर हुई है। दोनों के खिलाफ केस दर्ज करने के बाद पूछताछ के दौरान इनके पास से बरामद मोटरसाइकिल के कागजात मांगे तो ये कुछ भी पेश नहीं कर सके। जब पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो आरोपियों ने माना कि उन्होंने ये मोटरसाइकिल चोरी किया था। सीआईए-2 इंचार्ज तरजिंदर सिंह ने बताया कि आरोपियों ने पूछताछ के दौरान माना कि उन्होंने शहर और आस-पास के इलाकों में चोरी की 12 से 15 वारदातों को अंजाम दिया। गिरोह का मास्टर माइंड गुरप्रीत सिंह दिन के समय पढ़ाई और रात को वाहन चोरी करता था। उन्होंने बताया कि एएसआई गुरप्रीत सिंह ने गुरप्रीत सिंह व रेशम सिंह की निशानदेही पर 11 मोटरसाइकिल गांव लहरी से बरामद करवाए। गुरप्रीत ने बताया कि उसने चार मोटरसाइकिल गगनप्रीत सिंह उर्फ गगना व जसविंदर सिंह को बेचे थे। जिस पर पुलिस ने अरेस्ट कर उनसे चार और बाइक बरामद करवाए।

वाहन चोर गिरोह के सदस्य सीआईए-2 की टीम के साथ।

12वीं के स्टूडेंट ने नशे की पूर्ति के लिए बनाया गैंग, शहर से चुराए 15 बाइक

चोरी हुए वाहन।

और भी वाहन बरामद हाेने की है संभावना

सीआईए-2 इंचार्ज तरजिंदर सिंह ने बताया कि नशे की पूर्ति के लिए ये लोग वाहन चोरी करते थे। रिमांड के दौरान इनसे और भी वाहन चोरी के बरामद होने की संभावना है।आरोपियों का रिमांड हासिल कर पूछताछ की जाएगी।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना