• Hindi News
  • Punjab
  • Bathinda
  • Sukhbir wants to run the party like a dictator, which is not democratic and constitutional, hence confrontation: Parminder Singh Dhindsa.

पंजाब / सुखबीर पार्टी को तानाशाह की तरह चलाना चाहते हैं, जो लोकतांत्रिक और संवैधानिक नहीं, इसलिए टकराव: परमिंदर सिंह ढींडसा

परमिंदर सिंह ढींडसा, सुखबीर बादल और सुखदेव सिंह ढींडसा परमिंदर सिंह ढींडसा, सुखबीर बादल और सुखदेव सिंह ढींडसा
X
परमिंदर सिंह ढींडसा, सुखबीर बादल और सुखदेव सिंह ढींडसापरमिंदर सिंह ढींडसा, सुखबीर बादल और सुखदेव सिंह ढींडसा

  • सुखदेव बोले- जब मैंने पार्टी के लिए कुर्बानियां दी तो सुखबीर वहां नहीं थे, इसलिए सोच-समझकर बोलें
  • परमिंदर सिंह ढींडसा ने कहा कि समझौते की कोई बात नहीं, क्योंकि सिद्धांत से कोई समझौता नहीं
  • ये भी बोले परमिंदर-उन्हें किसी पद का कोई लालच नहीं है, अब विचार धारा ही उनका मुख्य निशाना 

Dainik Bhaskar

Jan 17, 2020, 06:08 PM IST

संगरूर/लहरागागा. अपने परिवार पर सुखबीर के कड़े तेवरों को देखते हुए ढींडसा पिता-पुत्र ने भी तीखी बयानबाजी शुरू कर दी है। सुखबीर पर पलटवार करते हुए सुखदेव सिंह ढींडसा ने कहा कि वह पार्टी के लिए अपनी कोई एक कुर्बानी बता दें और बताएं की उन्हें इन पदों पर पहुंचाने वाला कौन है।

कहा जब उन्होंने पार्टी के लिए कुर्बानियां दी तो सुखबीर यहां नहीं थे। इसलिए सुखबीर सोच समझ कर बोलें। बोलन तो पहलां उन्हूं अपनी पीढ़ी थले सोटा फेर लेना चाहिदा है। बता दें कि सुखबीर ने कहा था कि सुखदेव सिंह ढींडसा 30 वर्षों से चुनाव लड़ रहे हैं और वह सिर्फ एक बार ही जीते हैं। हार के बावजूद पार्टी ने उन्हें पूरा सम्मान दिया।


परमिंदर सिंह ढींडसा ने कहा है कि सुखबीर बादल के साथ न तो समझौते की बात चली है व न ही चलेगी। क्योंकि सिद्धांत पर कोई समझौता नहीं हो सकता। उन्हें किसी पद का कोई लालच नहीं है। अब विचार धारा ही उनका मुख्य निशाना है।

उन्होंने कहा कि हमारे और सुखबीर बादल के विचारों में बहुत अंतर है, वे पार्टी को तानशाह की तरह चलाना चाहते हैं जो कि किसी भी तरह से लोकतांत्रिक और संवैधानिक नहीं है। इसलिए ही उनसे टकराव रह है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना