• Hindi News
  • Punjab
  • Bathinda
  • Bathinda News to get good grade all the doctors are seen in the 3 time cleaning dress code in the hospital sheets are laid on the stretchers

अच्छा ग्रेड पाने को दो दिन से अस्पताल में 3 टाइम सफाई ड्रेस कोड में दिखे सभी डॉक्टर, स्ट्रेचरों पर बिछाई चादरें

Bathinda News - जिले में स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर करने के लिए सेंट्रल से दौरे पर आई टीम ने वुमेन एंड चिल्ड्रन अस्पताल का निरीक्षण...

Jan 24, 2020, 07:30 AM IST
Bathinda News - to get good grade all the doctors are seen in the 3 time cleaning dress code in the hospital sheets are laid on the stretchers
जिले में स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर करने के लिए सेंट्रल से दौरे पर आई टीम ने वुमेन एंड चिल्ड्रन अस्पताल का निरीक्षण किया। डाॅ. चंद्रकांता डी झा आरएमओ रतना गिरी अस्पताल महाराष्ट्र, डाॅ. सारिका झा क्वालिटी ट्रेनर आईएलबीएस इंस्टीच्युट दिल्ली की अगुवाई में ऑडिट टीम वीरवार को अस्पताल पहुंची। केंद्रीय लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने लक्ष्य योजना से मातृ-शिशु मृत्यु दर घटाने का लक्ष्य निर्धारित किया है। जांच टीम वीरवार को सुबह 9 बजे सिविल सर्जन कार्यालय पहुंची। इस दौरान टीम ने सिविल सर्जन डाॅ. अमरीक सिंह संधू के साथ बैठक कर सेहत संबंधी जानकारी प्राप्त की। टीम करीब 10 बजे गायनी वार्ड, बेबी केयर यूनिट सहित अन्य सभी सेहत सुविधाओं का जायजा लिया। अस्पताल के वार्डों में मरीजों की देखभाल के लिए स्टाफ की कमी व मरीजों के साथ आए परिजनों को बैठने के लिए उचित व्यवस्था न होने के बारे में अस्पताल प्रबंधन टीम को कोई जवाब नहीं दे सका। वहीं अस्पताल में सफाई कर्मचारी दो दिनों से लगातार तीनों समय सफाई करते हुए देखे गए। लेबर रूम के बाहर दो सुरक्षा कर्मचारी तैनात किए थे। बेबी केयर यूनिट के पास कोई सुरक्षा कर्मचारी तैनात नहीं था और न ही परिजनों के लिए कोई वेटिंग रूम बनाया गया। जिस कारण अस्पताल प्रबंधन को खरी खोटी सुननी पड़ी।

केंद्रीय टीम ने वुमेन एंड चिल्ड्रन अस्पताल के लेबर रूम, ऑपरेशन थियेटर का लिया जायजा

बेबी केयर यूनिट के पास सुरक्षा कर्मचारी व वेटिंग रूम न होने पर अस्पताल प्रबंधन की लगी क्लास

एक तरफ जहां सफाई मुलाजिम अस्पताल को चमकाने में लगे हुए थे, वहीं स्टाफ मेंबर सफाई में भी आगे रहने के लिए खुद ही दरवाजों को साफ करते हुए दिखे।

ओपीडी सहित आॅपरेशन थियेटर में गुणात्मक उपकरणों व व्यवस्था को जांचा

सबसे पहले टीम ने प्रसव कक्ष का जायजा लिया। यहां प्रसव कक्ष व ऑपरेशन थियेटर में मिलने वाली सुविधाओं की अपडेट ली। मातृ एवं शिशु मृत्यु दर, रेफरल आडिट सिस्टम, स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर के अनुसार दस्तावेजों का रखरखाव और इस योजना के तहत अस्पताल में हुए कार्यों की समीक्षा और एडवांस लाइफ सपोर्ट, आपदा प्रबंधन और इमरजेंसी प्रोटोकॉल जैसी ट्रेनिंग स्टाफ के बारे में पूछताछ की। इस दौरान अस्पताल में मौजूद डॉक्टरों व कर्मचारियों से भी पूछताछ की। डाॅ. धीरा गुप्ता ने बताया कि क्वालिटी चेकिंग टीम द्वारा 70 प्रतिशत अंक प्रदान किए जाएंगे। टीम द्वारा लेबर रूम, मेटरनिटी, गायनी वार्ड व ओपीडी सहित आपरेशन थियेटर में गुणात्मक उपकरणों और व्यवस्था को जांचा गया है। वहीं, संबंधित सीनियर अधिकारी इस संबंध में कोई भी जानकारी देना उचित नहीं समझा। बता दें कि इससे पहले 25 जून को स्टेट हेल्थ चंडीगढ़ की चार मेंबरी टीम डाॅ. इंदरदीप कौर की अगुवाई में निरीक्षण के लिए पहुंची थी। जहां टीम की ओर से विभिन्न सेहत सुविधाओं के अलावा 20 मानकों पर जांच की गई थी। जांच के बाद स्टेट हेल्थ टीम ने रिपोर्ट तैयार कर केंद्रीय टीम को सौंपा थी, जिसके बाद आज सेंट्रल की जांच टीम निरीक्षण के लिए पहुंची।

मरीजों को होना पड़ा परेशान, डाॅक्टरों का इंतजार करते रहे लोग

डाॅक्टर के इंतजार में खड़ी, हरमेल कौर, विनीता रानी, रजनी, कविता आदि ने बताया कि 5 दिन मरीज वार्ड में दाखिल है। आज सुबह से कोई महिला डाॅक्टर व स्टाफ नर्स वार्ड में मरीजों का हाल जानने के लिए दोपहर 12 तक कोई नहीं पहुंचा। पता चला कि ग्राउंड फ्लोर पर सभी डाॅक्टर मीटिंग कर रहे हैं। यहां पहुंचने पर पता चला कि यहां चेकिंग के लिए कोई बड़े अधिकारी आए हैं। जिस कारण अस्पताल के अधिकारी व समस्त स्टाफ उनकी सेवा भाव में लगे हुए है।

अस्पताल प्रबंधन पहले से ही सचेत था|टीम के निरीक्षण को लेकर अस्पताल प्रबंधन पहले से ही सचेत था। मरीजों को लाने ले जाने वाले स्ट्रेचर पर नई बेड शीड बिछाई गई। हालांकि जिस कक्ष में यह लिखा था कि यहां जूते-चप्पल पहनकर अंदर आना मना है वहां खुद टीम सदस्य व स्टॉफ जूते-चप्पल पहनकर ही अंदर पहुंचा।

70% से अधिक अंक पर मिलेंगे दो लाख...यदि रैकिंग में अस्पताल को 70 प्रतिशत लक्ष्य प्राप्त होता है तो दो लाख रुपए बतौर इनाम के रूप में मिलेंगे। इस राशि से प्रसव कक्ष, ऑपरेशन थियेटर की सुविधाओं में ओर अधिक इजाफा किया जा सकता है।

इन मानकों पर तय होंगे पुरस्कार|अस्पताल की आधार भूत संरचना, साफ-सफाई एवं स्वच्छता, जैविक कचरा निस्पादन, संक्रमण रोकथाम, अस्पताल की अन्य सहायक प्रणाली, स्वच्छता शामिल है।

बंद कमरे में देर तक चला निरीक्षण...टीम ने पहले दिन बंद कमरे में स्टॉफ कर्मचारियों के साथ देर तक चर्चा की। इस दौरान मीडिया से दूरी बनाए रखी। चर्चा के बाद टीम सदस्यों ने वार्ड में दाखिल मरीज व परिजन से व्यवस्थाओं के संबंध में किसी भी प्रकार का फीडबैक नहीं लिया।

Bathinda News - to get good grade all the doctors are seen in the 3 time cleaning dress code in the hospital sheets are laid on the stretchers
Bathinda News - to get good grade all the doctors are seen in the 3 time cleaning dress code in the hospital sheets are laid on the stretchers
Bathinda News - to get good grade all the doctors are seen in the 3 time cleaning dress code in the hospital sheets are laid on the stretchers
X
Bathinda News - to get good grade all the doctors are seen in the 3 time cleaning dress code in the hospital sheets are laid on the stretchers
Bathinda News - to get good grade all the doctors are seen in the 3 time cleaning dress code in the hospital sheets are laid on the stretchers
Bathinda News - to get good grade all the doctors are seen in the 3 time cleaning dress code in the hospital sheets are laid on the stretchers
Bathinda News - to get good grade all the doctors are seen in the 3 time cleaning dress code in the hospital sheets are laid on the stretchers
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना