मताधिकार का प्रयोग करने हेतु जान जोखिम में डालकर जाना पड़ता है मतदान केंद्र

Bathinda News - भास्कर संवाददाता|रामपुरा फूल बठिंडा-बरनाला नेशनल हाईवे पर स्थित गांव जवाहर नगर के वोटर अपनी जान जोखिम में...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:40 AM IST
Bathinda News - to use the franchise life has to be put in jeopardy
भास्कर संवाददाता|रामपुरा फूल

बठिंडा-बरनाला नेशनल हाईवे पर स्थित गांव जवाहर नगर के वोटर अपनी जान जोखिम में डालकर अपने मताधिकार का प्रयोग करते हैं। सुनने में यह बात भले ही अटपटी सी लगे किंतु सच्चाई यही है कि लोकसभा हलका बठिंडा के इस आखिरी गांव के लोगों को अपने मताधिकार का प्रयोग करने हेतु रेलवे ट्रैक पार करने हेतु मजबूर होना पड़ता है। यह किसी एक चुनाव की बात नहीं, बल्कि यह सिलसिला कई दशकों से चला आ रहा है। इस दौरान स्थानीय से लेकर केंद्र तक कई सरकारें तथा नेता बदले, किंतु किसी ने भी गांववासियों की इस समस्या पर ध्यान नहीं दिया। बठिंडा-बरनाला नेशनल हाईवे पर स्थित स्टैलको इंडस्ट्री के समक्ष बसे गांव जवाहर सिंह वाला में कोई भी स्कूल, अस्पताल अथवा कोई अन्य सार्वजनिक इमारत नहीं है। यहां तक कि गांव का पंचायत घर भी लाइन पार नगर कौंसिल रामपुरा फूल की सीमा में बनाया गया है। गांव में कोई भी सार्वजनिक इमारत ना होने के गांव का पोलिंग बूथ रामपुरा शहर की सीमा में स्थित खेतीबाड़ी विभाग के कार्यालय में बनाया जाता है। अपने मताधिकार का प्रयोग करने हेतु उक्त पोलिंग बूथ पर पहुंचने के लिए गांववासियों को या तो रेलवे ट्रैक अन्यथा तीन किलोमीटर लंबा रास्ता तय कर रेलवे ओवरब्रिज पार करना पड़ता है। जिसके चलते उनके साथ किसी भी समय हादसा होने का भय बना रहता है। सबसे ज्यादा परेशानी दिव्यांग तथा बुजुर्ग वोटरों को होती है। गांव निवासी जगतार तारी, जतिंद्र मेहरा इत्यादि ने कहा कि चुनाव के समय बड़े-बड़े वादे करने वाले नेता चुनाव जीतने के बाद वोटरों की समस्याओं की तरफ कोई ध्यान नहीं देते।

रेलवे लाइन पार करते हुए लोग।

X
Bathinda News - to use the franchise life has to be put in jeopardy
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना