टकराव / गांव में गली निर्माण के दौरान विवाद; गोलीबारी में महिला समेत 2 की मौत, दोनों पक्षों के 3 घायल



two died including a lady and three others from both side got injured in firing
two died including a lady and three others from both side got injured in firing
X
two died including a lady and three others from both side got injured in firing
two died including a lady and three others from both side got injured in firing

  • मुक्तसर जिले के गांव जवाहरेवाला में हुआ विवाद, दोनों तरफ से तन गई बंदूकें
  • घायलों में एक पक्ष से दो फरीदकोट रेफर, दूसरे पक्ष का एक शहर में ही निजी अस्पताल में भर्ती

Dainik Bhaskar

Jul 14, 2019, 12:05 PM IST

मुक्तसर. मुक्तसर में शनिवार को गोलीबारी की वारदात में दो लोगों की मौत हो गई, वहीं दोनों तरफ से तीन लोग घायल होकर अस्पताल भी पहुंच गए। इस खूनी झड़प के पीछे गांव में बन रही गली को लेकर विवाद को जिम्मेदार बताया जा रहा है। दूसरी ओर पता चलते ही पुलिस ने मौके पर पहुंचकर हालात पर काबू पाया। फिलहाल दोनों पक्षों के लोगाें के बयान दर्ज किए जा रहे हैं। पुलिस का दावा है कि पूरी जांच-पड़ताल के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

 

घटना गांव जवाहरे वाला की है। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक शनिवार सुबह उन्हें गांव में दो गुटों में टकराव की सूचना मिली थी, जिसके तुरंत बाद मौके पर पहुंचकर छानबीन शुरू की गई। पता चला है कि गांव में बन रही गली को लेकर दो गुटों में विवाद हो गया और देखते ही देखते यह विवाद इतना विकराल हो गया कि दोनाें तरफ से बंदूकें तन गई। इस घटना में दोनों तरफ से दो लोगों की मौत हो गई, वहीं तीन लोग घायल हो गए। बड़ी मुश्किल से पुलिस ने हालात पर काबू पाया।

 

खूनी झड़प में मरने वालों की पहचान 23 वर्षीय मिनी रानी पत्नी धर्मेंद्र सिंह और 24 वर्षीय किरनदीप सिंह पुत्र गुरबचन सिंह के रूप में हुई है, जिनकी गोली लगने से मौके पर ही मौत हो गई। इसके अलावा घायलों में एक गुट का संदीप सिंह पुत्र गुरबाज सिंह शहर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है तो दूसरे गुट से धर्मेंद्र सिंह और गुरजीत सिंह को पहले यहां के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया। इसके बाद उनकी हालत को गंभीर देखते हुए डॉक्टर्स ने दोनों को फरीदकोट बाबा फरीद मेडिकल यूनिवर्सिटी के अस्पताल में रेफर कर दिया है।

 

पीड़ित परिवार के घर के सामने वाली गली जोकि पहले कच्ची थी अब मौजूदा सरपंच लखविंदर सिंह व पंचायत ने मनरेगा योजना के तहत कंकरीट वाली पक्की गली बनानी शुरू की हुई थी, जबकि इसी गली के दूसरे ओर पूर्व सरपंच पलविंदर सिंह पप्पू की करीब 53 एकड़ जमीन है, जिसमें से 8-10 एकड़ जमीन इस गली के साथ लगती है। सूत्रों के अनुसार पलविंदर पप्पू नहीं चाहता था कि यह गली मौजूदा पंचायत बनाए, क्योंकि उसे यह भी संदेह था कि गली का पानी उसके खेत में आएगा, आज जैसे ही सुबह नरेगा मजदूरों ने गली का काम शुरू करना चाहा तो पलविंदर सिंह पप्पू व दूसरा व्यक्ति दुगा सिंह हथियारों से लैस होकर मौके पर पहुंच गए और वहीं इन लोगों की मृतक के पक्ष से संबंधित लोगों से बहस हो गई और यह तकरार इतनी बढ़ गई पलविंदर सिंह पप्पू पक्ष से संबंधित लोगों ने गोलियां चला दी।

 

आरोपियों में ब्लॉक यूथ कांग्रेस प्रधान व उसके बड़े भाई का नाम भी
जवाहरेवाला में हुए कत्ल के मामले में दर्ज मामले में मुक्तसर ब्लॉक यूथ कांग्रेस के प्रधान प्रभजोत सिंह बराड़ व उसका बड़ा भाई अंग्रेज सिंह भी नामजद हैं। प्रभजोत सिंह बराड़ जोकि इस समय मुक्तसर यूथ कांग्रेस के प्रधान हैं और व कांग्रेस पार्टी की गतिविधियों में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेते हैं और उसे अकसर ही कांग्रेस के कई बड़े नेताओं व विधायकों के साथ देखा जाता है। जबकि अन्य आरोपियों में शामिल पूर्व सरपंच पलविंदर सिंह पप्पू, दुगी सिंह के अलावा कुछ लोग भी कांग्रेस पार्टी से संबंधित हैं।

 

दो आरोपी गिरफ्तार
एसएसपी मनजीत सिंह ढेसी ने बताया कि पुलिस ने 11 लोगों केे खिलाफ धारा 307, 302, 120 बी, 148, 149, 25/27/54/59 ऑर्म्स एक्ट व 3, 4 एससी/एसटी एक्ट के तहत थाना सदर मुक्तसर में दर्ज कर लिया गया है देर शाम तक पलविंदर सिंह, दुग्गी सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। बाकी आरोपियों की तलाश जारी है। मामले में नामजद व्यक्तियों में पूर्व सरपंच पलविंदर सिंह पप्पू, दुगी सिंह, अंग्रेज सिह, जसबीर सिंह महमू, गुलजार सिंह, हरमद सिंह गेंदा, गब्बर सिंह, ईश्वर सिंह, संदीप सिंह सिपा, प्रभजोत बराड़, रणजीत सिंह शामिल हैं। इनमें से 6 लोग जनरल वर्ग व 5 लोग दलित समुदाय से संंबंधित हैं।

COMMENT