कोहरे का कहर / सड़क किनारे खड़े गैस सिलेंडर से भरे ट्रक में हुई कार की टक्कर, लुब्रिकेंट व्यापारी, पत्नी और 2 बच्चों की मौत

लुब्रिकेंट कारोबारी राजीव कुमार मित्तल, पत्नी मंजू, बेटी सुनिधि और बेटे शुभम की फाइल फोटो। लुब्रिकेंट कारोबारी राजीव कुमार मित्तल, पत्नी मंजू, बेटी सुनिधि और बेटे शुभम की फाइल फोटो।
ट्रक के नीचे घुसी पीछे से टकराई कार। ट्रक के नीचे घुसी पीछे से टकराई कार।
कार में चारों शव बेहद बुरी तरह फंसे हुए पाए गए। कार में चारों शव बेहद बुरी तरह फंसे हुए पाए गए।
बड़ी मुश्किल से इन चारों को निकालकर सिविल अस्पताल स्थित मोर्चरी में पहुंचाया गया। बड़ी मुश्किल से इन चारों को निकालकर सिविल अस्पताल स्थित मोर्चरी में पहुंचाया गया।
X
लुब्रिकेंट कारोबारी राजीव कुमार मित्तल, पत्नी मंजू, बेटी सुनिधि और बेटे शुभम की फाइल फोटो।लुब्रिकेंट कारोबारी राजीव कुमार मित्तल, पत्नी मंजू, बेटी सुनिधि और बेटे शुभम की फाइल फोटो।
ट्रक के नीचे घुसी पीछे से टकराई कार।ट्रक के नीचे घुसी पीछे से टकराई कार।
कार में चारों शव बेहद बुरी तरह फंसे हुए पाए गए।कार में चारों शव बेहद बुरी तरह फंसे हुए पाए गए।
बड़ी मुश्किल से इन चारों को निकालकर सिविल अस्पताल स्थित मोर्चरी में पहुंचाया गया।बड़ी मुश्किल से इन चारों को निकालकर सिविल अस्पताल स्थित मोर्चरी में पहुंचाया गया।

  • मोगा-लुधियाना हाईवे पर मंगलवार सुबह करीब साढ़े 7 बजे हुआ हादसा
  • दिल्ली में मीटिंग अटेंड करने के बाद पत्नी और बच्चों के साथ पहले गोवा घूमने गए राजीव, फिर मोगा वापस लौट रहे थे

दैनिक भास्कर

Feb 11, 2020, 12:42 PM IST

मोगा. मोगा में मंगलवार तड़के गहरी धुंध की वजह से सड़क हादसे में एक ही परिवार के चार लोगों की मौत हो गई। हादसा उस वक्त हुआ, जब लुब्रिकेंट कारोबारी दिल्ली से लौट रहे थे। मोगा-लुधियाना हाईवे पर इनकी कार की सड़क पर खड़े गैस सिलेंडर से भरे ट्रक में पीछे से जा टकराई। चारों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। पता चलने पर शवों का बहुत बुरा हाल हो गया। मौके पर पहुंचे समाज सेवा सोसायटी के सदस्यों ने पुलिस के सहयोग से शवों को निकालकर पोस्टमार्टम के लिए मोगा के सिविल अस्पताल में पहुंचाया।

हादसे का शिकार हुए इस परिवार की पहचान 47 वर्षीय लुब्रिकेंट कारोबारी राजीव कुमार मित्तल पुत्र महिंद्र कुमार, पत्नी मंजू, बेटी सुनिधि (17) और बेटे शुभम (15) के रूप में हुई है। मिली जानकारी के मुताबिक राजीव को शुक्रवार को दिल्ली में किसी मीटिंग में शामिल होना था। इससे पहले गुरुवार रात को वह किसी परिचित की बैलेनो गाड़ी मांगकर पत्नी और बच्चों के साथ दिल्ली के लिए निकले। शुक्रवार को मीटिंग अटेंड करने के बाद सभी गोवा घूमने चले गए। वहां से वापस आने के बाद सोमवार का दिन दिल्ली में ही गुजारा और फिर रात में मोगा के लिए वापस निकले।

मंगलवार सुबह करीब साढ़े 7 बजे घर से महज 10 किलोमीटर पहले इनकी गाड़ी की टक्कर अचानक सड़क किनारे खड़े एक ट्रक से हो गई, जो गैस सिलेंडर से भरा था। टक्कर इतनी खतरनाक थी कि गाड़ी बुरी तरह से ट्रक के नीचे घुस गई। इस वजह कार में सवार चारों लोगों की मौके पर ही मौत हो गई।

सूचना पाकर समाज सेवा सोसायटी के सदस्य और पुलिस टीम मौके पर पहुंची तो पाया कि चारों शव बुरी तरह फंसे हुए थे। कार के चारों टायरों की हवा निकालने के बाद इसे कड़ी मशक्कत के बाद ट्रक के नीचे से निकाला गया और फिर इसमें से निकाल चारों शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए मोगा के सिविल अस्पताल में पहुंचाया। इस घटना के बाद घर में मातम पसर हुआ है, वहीं पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना