Hindi News »Punjab »Bhadaur» 101 आत्महत्या पीड़ित परिवारों के लिए 2.84 करोड़ रुपए की सहायता राशि मंजूर, एसडीएम बांटेंगे चेक

101 आत्महत्या पीड़ित परिवारों के लिए 2.84 करोड़ रुपए की सहायता राशि मंजूर, एसडीएम बांटेंगे चेक

पंजाब सरकार द्वारा जिले में आर्थिक संकट के कारण आत्महत्या करने वाले किसानों के परिवारों के लिए सहायता राशि जारी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 23, 2018, 02:20 AM IST

101 आत्महत्या पीड़ित परिवारों के लिए 2.84 करोड़ रुपए की सहायता राशि मंजूर, एसडीएम बांटेंगे चेक
पंजाब सरकार द्वारा जिले में आर्थिक संकट के कारण आत्महत्या करने वाले किसानों के परिवारों के लिए सहायता राशि जारी की गई है। डीसी घनश्याम थोरी ने बताया कि जिले से संबंधित 101 परिवारों को सरकार द्वारा 2.84 करोड़ रुपए की सहायता राशि मुहैया करवाने की मंजूरी दी गई है। जिनमें से 21 पीड़ित परिवारों के 55 लाख रुपए पहले ही मंजूर किए जा चुके हैं, जबकि 49 अन्य परिवारों के लिए 1.39 करोड़ रुपए की सहायता राशि जारी करने के लिए प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

डीसी ने बताया कि उप मंडल लहरागागा के लिए 22 लाख रुपए, सुनाम के लिए 36 लाख रुपए, दिड़बा के लिए 2 लाख रुपए, संगरूर के लिए 20 लाख रुपए, मूनक के लिए 24 लाख रुपए, भवानीगढ़ के लिए 9 लाख रुपए व धूरी के लिए 26 लाख रुपए की सहायता राशि जारी की गई है। उन्होंने कहा कि जल्द ही लाभपात्रियों को राशि बांट दी जाएगी।

मदद

21 पीड़ित परिवारों के 55 लाख रुपए पहले ही मंजूर किए जा चुके हैं

गिरदावरी की रिपोर्ट के आधार पर जारी हुई राशि

डीसी ने बताया कि पिछले साल ओलावृष्टि के कारण संगरूर व भवानीगढ़ के जिन किसानों की हाड़ी की फसलों का नुकसान हो गया था उस संबंधी गिरदावरी की रिपोर्ट के आधार पर संगरूर के 226 किसानों व भवानीगढ़ के 1396 किसानों को पंजाब सरकार द्वारा 2 करोड़ 27 लाख रुपए की सहायता राशि के चेक मुहैया करवाने के लिए संबंधित एसडीएम को राशि जारी कर दी गई है। संगरूर के किसानों को 40 लाख 26 हजार 848 रुपए व भवानीगढ़ के प्रभावित किसानों को 1 करोड़ 89 लाख 36 हजार 400 रुपए के चेक प्रदान किए जाएंगे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhadaur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×