Hindi News »Punjab »Bhatinda» ईजीएस अध्यपक यूनियन ने दी संघर्ष तेज करने की चेतावनी

ईजीएस अध्यपक यूनियन ने दी संघर्ष तेज करने की चेतावनी

स्कूलों में प्री नर्सरी कक्षाएं देकर रेगुलर करने की मांग को लेकर शहीद किरणजीत कौर ईजीएस एआईई एसटीआर अध्यापक...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 02:15 AM IST

स्कूलों में प्री नर्सरी कक्षाएं देकर रेगुलर करने की मांग को लेकर शहीद किरणजीत कौर ईजीएस एआईई एसटीआर अध्यापक यूनियन ने टीचर्स होम में बैठक की। वालंटियरों ने शहर में रोष मार्च निकालने की तैयारी को देखते हुए पुलिस प्रशासन ने टीचर्स होम को घेर लिया और मौके पर पहुंचे तहसीलदार सुखबीर सिंह बराड़ ने इनसे मांगों का ज्ञापन लिया। यूनियन ने 28 जून तक उनकी मांग पूरा न होने पर सरकार के खिलाफ आंदोलन की रणनीति तैयार करने की चेतावनी दी।

नेताओं ने कहा कि पूर्व की अकाली-भाजपा सरकार ने ठेके पर लगे ईजीएस एआइई एसटीआर वालंटियरों को प्री नर्सरी क्लासेज देकर पक्के करने का प्रस्ताव बनाया लेकिन इसे पारित नहीं किया। हालांकि सत्ता में आई कांग्रेस सरकार ने बजट में अगले शिक्षा सत्र से प्री नर्सरी कक्षाएं शुरू करने का ऐलान किया लेकिन यह स्पष्ट नहीं किया कि प्री नर्सरी कक्षाओं को उन्हें ही सौंपा जाएगा या फिर नया स्टाफ रखा जाएगा। इससे वे असमंजस में हैं। यूनियन ने मांग की कि 14 साल से सरकारी प्राइमरी स्कूलों में सेवाएं दे रहे हैं। सरकार ने उन्हें ईटीटी कोर्स भी करवाया, नौकरी की खातिर इनके तीन साथी किरण जीत कौर फरीदकोट, जिला सिंह मुक्तसर व अपनी मां के साथ संघर्ष में आई 14 महीने की बच्ची रुत्थ ने भी शहादत दी। वहीं चुनाव आचार संहिता के दिनों में संघर्ष के दौरान एक साथी ने खुद को पेट्रोल डालकर जलाने का प्रयास भी किया जिसे उनके साथियों ने बचा लिया। इनके संघर्ष को देखते हुए अब नौकरी पक्की करने में उन्हें प्राथमिकता दी जानी चाहिए। सुप्रीम कोर्ट के निर्देशानुसार बराबर काम बराबर वेतन फार्मूला लागू हो।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhatinda

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×