Hindi News »Punjab »Bhatinda» मोदी सरकार ने व्यापारी और आम वर्ग को नहीं दी कोई बड़ी राहत : करतार जाैड़ा

मोदी सरकार ने व्यापारी और आम वर्ग को नहीं दी कोई बड़ी राहत : करतार जाैड़ा

केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली की तरफ से वीरवार को मोदी सरकार का आखिरी आम बजट पेश किया गया। इसमें व्यापारी वर्ग व...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 02:15 AM IST

केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली की तरफ से वीरवार को मोदी सरकार का आखिरी आम बजट पेश किया गया। इसमें व्यापारी वर्ग व आम वर्ग को कोई बड़ी राहत नहीं दी। पंजाब स्वर्णकार संघ के प्रदेश प्रधान करतार सिंह जौड़ा ने कहा कि देश के लोगों को उम्मीद थी कि भाजपा सरकार अपने आखिरी बजट में व्यापारी वर्ग को कोई बड़ी राहत देगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ। केंद्र सरकार ने देश वासियों को भरोसा दिया था कि जीएसटी लागू होने के बाद व्यापारियों को एक टैक्स देना पड़ेगा लेकिन इस बजट में ऐसा कुछ भी नहीं हुआ। मोदी सरकार ने सोना, चांदी समेत अन्य चीजों पर तीन गुणा ज्यादा टैक्स लगा दिया है। सोना, चांदी, ज्वैलरी के लेबर मेकिंग जिस पर वैट नहीं था, उस पर भी 5 फीसदी जीएसटी लगा दिया गया है। कपड़े क जीएसटी में शामिल कर सरकार ने साबित कर दिया है कि गरीबों को अपना तन ढकने के लिए भी सरकार को टैक्स देना पड़ेगा।

बजट से आम लोगों को हुआ फायदा : पंकज

बठिंडा। पंकज भारद्वाज ने कहा कि केंद्रीय वित्त मंत्री ने स्वच्छ भारत बनाने के लिए खुले में शौच बंद करने के लिए देश भर में 2 करोड़ शौचालय के निर्माण के लिए बहुत अच्छा फैसला लिया है। 50 करोड़ लोगों के लिए सेहत बीमा बहुत अच्छा कदम है। देश में बेरोजगारी खत्म करने के लिए नौजवानों को रोजगार देने के लिए 70 लाख नौकरियां देने का फैसला बहुत अच्छा है।

जीएसटी रेट में कटौती की थी उम्मीद : मोहित मित्तल

बठिंडा| आईसीएआई के चेयरमैन सीए मोहित मित्तल ने इस बजट को ओवरआल अच्छा बताया है, उनके अनुसार बजट का मुख्य केंद्र बिंदु सेहत व रूरल डेवलपमेंट रहा है। । व्यक्तिगत इन्कम टैक्स स्लैब को वही रखा गया है सिर्फ 40 हजार सेलरी पाने वालों के लिए स्टैंडर्ड डिडक्शन का प्रावधान किया है। हालांकि इन्कम टैक्स की स्लैब में बदलाव तथा जीएसटी रेट्स में कटौती की उम्मीद थी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhatinda

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×