• Home
  • Punjab
  • Bathinda
  • खसरा विरोधी अभियान की जानकारी दी
--Advertisement--

खसरा विरोधी अभियान की जानकारी दी

बठिंडा| सेहत विभाग ने सहायक सिविल सर्जन डॉ. कुंदन कुमार पाल की निगरानी में मीजल-रुबेला मुहिम के तहत वर्कशॉप करवाई।...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 02:15 AM IST
बठिंडा| सेहत विभाग ने सहायक सिविल सर्जन डॉ. कुंदन कुमार पाल की निगरानी में मीजल-रुबेला मुहिम के तहत वर्कशॉप करवाई। इसमें सेहत विभाग की टीम ने परसराम नगर सरकारी स्कूल, देसराज स्कूल और सरकारी गर्ल्स स्कूल स्कूलों के बच्चों को टीकाकरण संबंधी विस्तार पूर्वक जानकारी दी गई।

वर्कशॉप में प्रिंसिपल, हेड टीचर, नोडल टीचरों भी शामिल रहे। इस मौके पर टीकाकरण अधिकारी डॉ. कुंदन कुमार पाल ने कहा कि खसरा एक जानलेवा बीमारी है। रुबेला, जिसे कि जर्मन खसरा कहा जाता है, कारण बच्चों में जमांदरू नुक्स भी हो सकते हैं। पोलियो की तरह खसरा और रुबेला को भी जड़ से खत्म करने के लिए राज्य में अप्रैल महीने के दौरान मीजल-रुबेला (एमआर) मुहिम की शुरूआत होने जा रही है। उन्होंने कहा कि कहा कि इस मुहिम के दौरान 9 महीने से लेकर 15 साल तक के सभी बच्चों का टीकाकरण किया जाएगा। इस मुहिम को सफल बनाने के लिए सुपरवाइजरों की निगरानी में वैक्सीनेशन टीमों का गठन किया जाएगा और स्पेशल मेडिकल टीमें भी बनाई जाएंगी।

स्कूली बच्चों को टीकाकरण संबंधी जानकारी देते सेहत विभाग के अधिकारी।