• Home
  • Punjab
  • Bathinda
  • कथा श्रवण जन्म-जन्मांतर के पुण्य का फल : श्री ध्रुव कृष्ण
--Advertisement--

कथा श्रवण जन्म-जन्मांतर के पुण्य का फल : श्री ध्रुव कृष्ण

बठिंडा| बल्ला राम नगर में स्थित संत शिरोमणि श्री बालाजी मंदिर चैरिटेबल ट्रस्ट की ओर भगवान श्री परशुराम जयंती एवं...

Danik Bhaskar | Apr 17, 2018, 03:15 AM IST
बठिंडा| बल्ला राम नगर में स्थित संत शिरोमणि श्री बालाजी मंदिर चैरिटेबल ट्रस्ट की ओर भगवान श्री परशुराम जयंती एवं श्री हनुमान जयंती के उपलक्ष्य में श्री ध्रुव कृष्ण जी महाराज वृंदावन वालों की अध्यक्षता में 15 से 21अप्रैल तक श्रीमद्भागवत सप्ताह ज्ञान यज्ञ का आयोजन किया जा रहा है। इस मौके पर कथा के पहले दिन कथा वाचक श्रद्धेय श्री ध्रुव कृष्ण जी महाराज ने श्रीमद्भागवत कथा के महत्व और श्रवण पर प्रकाश डाला। कहा, कथा श्रवण जन्म-जन्मांतर के पुण्य का फल है। उन्होंने बताया कि बड़े भाग्य से मनुष्य का तन मिलता है और बड़े सौभाग्य से मनुष्य को कथा सुनने का मौका मिलता है। जैसे गंगाजल पुराना नहीं होता, वैसे ही कथा भी कभी पुरानी नहीं होती। उन्होंने कहा कि भागवत कथा में भगवान के जिन रूपों व लीलाओं का वर्णन है, उन्हें यदि हम अपने जीवन में उतार लें तो हमारा जीवन सुखमय हो जाएगा। इस मौके मंदिर संस्थापक संदीप शर्मा, चेयरमैन नत्थू राम शर्मा, शरद वलेचा, अशोक शर्मा, अमृत सिंगला, नरिंदर सिंह, दीपक, अश्वनी,सुभाष, अवध तिवारी के अलावा अन्य लोग उपस्थित थे।