भवानीगढ़

--Advertisement--

शिक्षकों का बड़ा चौक में धरना, राहगीरों से तकरार

लंबे समय से रेगुलर करने की मांग को लेकर 5178 मास्टर कैडर यूनियन के सदस्य रविवार को शहर की सड़कों पर उतर आए। जिले भर से...

Danik Bhaskar

Jan 15, 2018, 02:10 AM IST
लंबे समय से रेगुलर करने की मांग को लेकर 5178 मास्टर कैडर यूनियन के सदस्य रविवार को शहर की सड़कों पर उतर आए। जिले भर से जुटे यूनियन सदस्यों ने नैना देवी मंदिर में बैठक करने के बाद शहर में पंजाब सरकार की सांकेतिक शव यात्रा निकाली। बड़े चौक में धरना देकर सरकार का पुतला फूंका और नारेबाजी की। इस दौरान प्रदर्शनकारियों की राहगीरों से तकरार भी हुई।

5178 मास्टर कैडर यूनियन के सदस्य रविवार को नैना देवी मंदिर में एकत्रित हुए। जिला प्रधान कर्मजीत सिंह नदामपुर व जिला जनरल सचिव कुलजीत ईसापुर ने कहा कि 5178 अध्यापक नवंबर 2014 से 6 हजार प्रति महीना वेतन पर काम कर रहे हैं। । अध्यापक टीईटी टेस्ट पास कर विभाग की मंजूरशूदा पोस्टों पर तीन साल ठेके पर काम करने के बाद रेगुलर करने की शर्त पर भर्ती हुए थे। लेकिन 2017 में समय पूरा होने के बाद सरकार अध्यापकों को रेगुलर करने से आनाकानी कर रही है।वह इस संबंधी सरकार के मंत्रियों से भी मिल चुके हैं लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की है। बड़ा चौक में अर्थी फूंक प्रदर्शन के दौरान एक मोटरसाइकिल चालक रास्ते की मांग को लेकर यूनियन सदस्यों से भिड़ गया। पुलिस ने मामला शांत किया। मौके पर डीटीएफ जिला प्रधान बलवीर चंद, सुरजीत भट्ठल, कुलदीप सिंह, विकास, यश अत्री, जगदीप कौर, परमिंदर कौर, शिवाली, मनदीप, राजा, इमरान, कंवर भवानीगढ़, किरनजीत कौर, बलजीत कौर, इंदू बाला, सुखविंदर, गुरतेज भुरथला, निरभै सिंह, लखवीर धूरी, दविंदर संगरूर, परमवीर लोहाखेड़ा, हरकंवल जवंधा, कुलदीप मौजूद थे।

संगरूर के बड़ा चौक में प्रदर्शन के दौरान अध्यापकों से उलझता राहगीर।

संघर्ष की चेतावनी दी

डेमोक्रेटिक टीचर फ्रंट के बलवीर चंद लोंगोवाल ने कहा कि कम वेतन के कारण 5178 अध्यापक दो वक्त की रोटी को तरस रहे हैं। डेमोक्रेटिक फ्रंट उनके साथ सरकार के खिलाफ संघर्ष करने को तैयार है। जिला जनरल सचिव कुलजीत ईसापुर ने ऐलान किया कि अध्यापकों को रेगुलर करे नहीं तो मजबूरन वह तेज संघर्ष शुरू करेंगे।

Click to listen..