Hindi News »Punjab »Bhawanigarh» चूड़ल खुर्द में भाकियू ने किसान की जमीन की कुर्की रोकी, अफसर लाैटे

चूड़ल खुर्द में भाकियू ने किसान की जमीन की कुर्की रोकी, अफसर लाैटे

भारतीयकिसान यूनियन एकता उगराहां द्वारा किसान की जमीन की कुर्की रोकी गई। भारतीय किसान यूनियन एकता उगराहां के...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jan 05, 2018, 03:10 AM IST

भारतीयकिसान यूनियन एकता उगराहां द्वारा किसान की जमीन की कुर्की रोकी गई। भारतीय किसान यूनियन एकता उगराहां के ब्लॉक प्रधान धरमिंदर सिंह पिशोर ने बताया कि गांच चूड़ल खुर्द में किसान राम सिंह से 7 लाख 7 हजार रुपए रिकवर करने के लिए उसकी 16 कनाल जमीन की कुर्की रखी गई थी। जिसका पता चलते ही किसान यूनियन के सदस्य मौके पर एकत्रित हो गए। जिस कारण कुर्की करने आए तहसीलदार हमीर सिंह पटवारी भूपिंदर सिंह कुर्की किए बिना खाली हाथ लौटना पड़ा। उन्होंने कहा कि किसान मजदूर रोजाना आत्महत्या कर रहे हैं लेकिन केंद्र पंजाब सरकार सो रही है। किसानों की मांगों को लेकर 22 से 26 तक पूरे पंजाब में डीसी कार्यालयों पर धरने दिए जाएंगे। वहीं इस संबंधी तहसीलदार हमीर सिंह का कहना है कि यदि कुर्की करने की कोशिश की जाती तो किसानों अधिकारियों के बीच टकराव होने का खतरा था। इस संबंधी रिपोर्ट उच्च अधिकारियों को दे दी गई है। इस मौके पर बहादर सिंह भूटाल खुर्द, मास्टर गुरचरन खोखर, सूबा सिंह संगतपुरा, सुखदेव सिंह कडैल, छोटा सिंह घोड़ेनब, सुखदेव शर्मा, मक्खन पापड़ा, करनैल सिंह गनौटा आदि मौजूद थे। (वरिंदर)

लहरागागा में किसान की जमीन की कुर्की रोकने के लिए जुटे किसान नेता। -भास्कर

धूरी |भाकियू (राजेवाल)ब्लॉक धूरी की बैठक यूनियन के प्रदेश सचिव निरंजन सिंह दोहला के नेतृत्व में हुई। इस मौके पर प्रदेश सचिव निरंजन सिंह दोहला ने बताया कि यूनियन द्वारा संगठनात्मक ढांचे को मजबूत करने के लिए समूचे पंजाब में गांव स्तर पर नई ईकाईयाें का गठन करने के लिए 15 जनवरी तक अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि 16 से 20 जनवरी तक राज्य के प्रत्येक जिले में दो दिवसीय ‘किसान जागरूकता सेमिनार करवाए जांएगे। इस प्रोग्राम की शुरूआत 16 जनवरी को भवानीगढ़ ब्लॉक के गांव नागरा से की जाएगी तथा इसके दूसरे दिन का सेमिनार गुरुद्वारा मंजी साहिब मूलोवाल में आयोजित किया जाएगा।

इस मौके पर यूनियन के ब्लॉक प्रेस सचिव निर्मल सिंह ने सरकार पर अधूरा कर्जामाफी योजना लागू करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि इस योजना का लाभ महज 4 से 5 प्रतिशत किसानों को ही पहुंचेगा। उन्होंने किसानों को अपने-अपने गांव की को-आॅपरेटिव सोसायटी से कर्जा माफी वाले किसानों की लिस्ट बनाकर 6 जनवरी तक एकत्रित करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि इन लिस्टों को 7 जनवरी को यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष बलवीर सिंह राजेवाल को सौंप कर इस अधूरी कर्ज राहत स्कीम का भांड़ा फोड़ा जाएगा।इस मौके पर यूनियन के महासचिव कर्मजीत सिंह अलाल ने बताया कि जनवरी के आखिरी हफ्ते में खेती से जुड़ी सभी समस्याओं के हल हेतू कृषि माहिरों, आंकड़ा विशेषज्ञों तथा किसान हितों से जुड़ी प्रमुख शख्सियतों के साथ किसान भवन चंडीगढ़ में तीन दिवसीय सेमिनार करवाया जाएगा। इस मौके पर सुरजीत सिंह कांझला, सतनाम सिंह पलासौर, रणधीर सिंह अलाल, प्रीतम सिंह बादशाहपुर, जगतेज सिंह बमाल, बावा सिंह धन्दीवाल आिद मौजूद थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhawanigarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×