• Home
  • Punjab News
  • Bhawanigarh News
  • लोडिंग-अनलोडिंग व कार्टेज की नई पॉलिसी का विरोध सड़क पर उतरे ट्रक यूनियनों के कांग्रेस समर्थक प्रधान
--Advertisement--

लोडिंग-अनलोडिंग व कार्टेज की नई पॉलिसी का विरोध सड़क पर उतरे ट्रक यूनियनों के कांग्रेस समर्थक प्रधान

लोडिंग-अनलोडिंग व कार्टेज पॉलिसी के विरोध में जिले की 14 ट्रक यूनियनों के सदस्य काम का बायकॉट कर शहर की सड़कों पर उतर...

Danik Bhaskar | Mar 16, 2018, 03:20 AM IST
लोडिंग-अनलोडिंग व कार्टेज पॉलिसी के विरोध में जिले की 14 ट्रक यूनियनों के सदस्य काम का बायकॉट कर शहर की सड़कों पर उतर आए। इनमें कई यूनियनों के प्रधान तो ऐसे हैं जोकि कांग्रेस पार्टी से संबंधित हैं। बावजूद उन्हें अपनी ही सरकार के विरुद्ध डीसी दफ्तर के समक्ष धरना देकर नारेबाजी की गई। आरोप है कि सरकार की नई पॉलिसी से ट्रक ऑपरेटरों को नुकसान उठाना पड़ेगा। मांग की गई कि नई पॉलिसी में संशोधन कर इसे लागू किया जाए। इस दौरान ऑपरेटरों की ओर से पॉलिसी की कॉपियां फूंक कर भी रोष व्यक्त किया गया।

ऑल पंजाब ट्रक ऑपरेटर यूनियन के जिला प्रधान रामपाल सिंह बैहणीवाल का कहना है कि पंजाब सरकार की ओर से 2018-19 के लिए लोडिंग-अनलोडिंग व कार्टेज के लिए बनाई गई पॉलिसी ट्रक ऑपरेटरों के हक में नहीं है। ऐसे में इस पॉलिसी पर पंजाब में कोई भी ट्रक ऑपरेटर काम नहीं करेगा। पंजाब सरकार द्वारा ट्रांसपोर्ट विभाग के वाहन सॉफ्टवेयर से तस्दीकशुदा ट्रकों की सूची मांगी गई है परंतु डीटीओ दफ्तरों का सॉफ्टवेयर काम नहीं कर रहा है। ऐसे में ट्रकों की एंट्री सॉफ्टवेयर में नहीं हो रही है। लोडिंग और अनलोडिंग की स्लैब को भी बदल दिया गया है। टेंडर डालने वाली सोसायटियों और एसोसिएशनों की पिछले वर्ष की टर्नओवर 4 करोड़ रुपए होने की शर्त रखी है। जिसे पूरा नहीं किया जा सकता है।

संगरूर में डीसी दफ्तर के समाने पंजाब सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए ट्रक यूनियनों के प्रधान और ऑपरेटर।

आगे क्या काम नहीं करेंगे ऑपरेटर|चेतावनी दी गई कि यदि सरकार ने पॉलिसी में संशोधन कर लागू नहीं किया तो पंजाब भर में ऑपरेटर इस पॉलिसी का बहिष्कार करेंगे। कोई भी ऑपरेटर काम नहीं करेगा।

अधिकतर कांग्रेस समर्थक

संगरूर, सुनाम, मालेरकोटला, संदौड़, धूरी, भवानीगढ़, लहरागागा, खनौरी, अमरगढ़, कुप कलां, अहमदगढ़, शेरपुर और मूनक में कांग्रेस सरकार बनने के बाद पुराने प्रधानों को बदल कर कांग्रेस प्रधानों को चुना गया था।

14 यूनियनें धरने में पहंुचीं

जिले से संगरूर, सुनाम, भवानीगढ़, लहरागागा, दिड़बा, धूरी, शेरपुर, संदौड़, मालेरकोटला, खनौरी, मूनक, कुपकलां, अहमदगढ़ और अमरगढ़ की ट्रक यूनियनों से प्रधान और सदस्य प्रदर्शन में शामिल हुए।

मांग : पॉलिसी में संशोधन कर इसे लागू करे सरकार