• Home
  • Punjab News
  • Bhawanigarh News
  • 16 घंटे बिजली सप्लाई के लिए भाकियू ने किया अनिश्चितकालीन धरना शुरू
--Advertisement--

16 घंटे बिजली सप्लाई के लिए भाकियू ने किया अनिश्चितकालीन धरना शुरू

भारतीय किसान यूनियन एकता उगराहां की ओर से खेतों में 16 घंटे बिजली की सप्लाई लेने के लिए पावरकॉम के कार्यालय के समक्ष...

Danik Bhaskar | Jun 12, 2018, 02:15 AM IST
भारतीय किसान यूनियन एकता उगराहां की ओर से खेतों में 16 घंटे बिजली की सप्लाई लेने के लिए पावरकॉम के कार्यालय के समक्ष अनिश्चितकालीन धरना शुरू कर पंजाब सरकार व पावरकॉम के खिलाफ नारेबाजी की गई। यूनियन नेता जगतार सिंह व मनजीत सिंह ने कहा कि सरकार 20 जून के बाद धान लगाने कि हिदायतें दे रही है। सरकार की ओर से कई स्थानों पर किसानों द्वारा लगाई गई धान की फसल को नष्ट करवा दिया गया है। जिसका यूनियन की ओर से विरोध किया जा रहा है। उन्होंने मांग की कि किसानों को खेतों के लिए 16 घंटे व घरों के लिए 24 घंटे निर्विघ्न बिजली सप्लाई दी जाए। इस मौके पर निर्भय सिंह, जिंदर सिंह, रघुवीर सिंह, बलविंदर सिंह, मघ्घर सिंह, गुरदेव सिंह, जोगिंदर सिंह, हरपाल सिंह, अमर सिंह, अंग्रेज सिंह, जसपाल सिंह, जस्सी नागरा, लाभ सिंह, जोगा सिंह, जगतार सिंंह, जगत सिंह, भजन सिंह, हरमेल सिंह आदि उपस्थित थे। (लखविंदर)

भवानीगढ़ में पावरकॉम कार्यालय के समक्ष नारेबाजी करते भाकियू सदस्य।

खुदकुशियां करने को मजबूर हैं किसान : पिशौर

लहरागागा| भारती किसान यूनियन (एकता उगराहां) की ओर से ब्लाक प्रधान धरमिंदर सिंह पिशौर की अगुवाई में खेतों में 16 घंटे निरंतर बिजली सप्लाई लेने की मांग को लेकर पावरकॉम के कार्यालय के समक्ष अनिश्चितकालीन धरना शुरू किया गया। रोष धरने को संबोधित करते हुए धरमिंदर सिंह पिशौर व जिला उप प्रधान बहाल सिंह ढींढसा ने कहा कि सरकार की गलतियों के कारण ही किसान व मजदूर हर रोज खुदकुशियां करने को मजबूर हैं। अब सरकार द्वारा खेतों के लिए 20 जून से बिजली देने के आदेश दिए गए हैं, जबकि खेती के लिए 11 जून से ही 16 घंटे बिजली की सप्लाई की जरूरत है। सरकार बिजली की सप्लाई न देकर फसलों की सरकारी खरीद बंद करना चाहती है।इस मौके पर बहादर सिंह, लीला सिंह, सूबा सिंह, करनैल सिंह, राम सिंह, मक्खन सिंह आदि उपस्थित थे। (वरिंदर)

लहरागागा में धरने को संबोधित करते हुए जिला उपप्रधान बहाल सिंह ढींढसा।