Hindi News »Punjab »Bhawanigarh» घराचों में कर्जे की किश्त लेने आए बैंक अधिकारियों काे किसानों ने बंधक बनाया

घराचों में कर्जे की किश्त लेने आए बैंक अधिकारियों काे किसानों ने बंधक बनाया

भारतीय किसान यूनियन एकता उगराहां की ओर से गांव घराचों में किसानों के कर्जे की किश्तें वसूलने आए पीएडीबी (पंजाब...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 30, 2018, 02:20 AM IST

घराचों में कर्जे की किश्त लेने आए बैंक अधिकारियों काे किसानों ने बंधक बनाया
भारतीय किसान यूनियन एकता उगराहां की ओर से गांव घराचों में किसानों के कर्जे की किश्तें वसूलने आए पीएडीबी (पंजाब एग्रीकल्चर डेवलपमेंट बैंक) के अधिकारियों के खिलाफ रोष धरना देकर अधिकारियों का घेराव कर बंधी बना लिया । यूनियन की ओर से सुबह 9 बजे से लेकर दोपहर 12 बजे तक बैंक अधिकारियों को बंधी बनाकर रखा गया। मामले का पता चलते ही सहायक थानेदार बलजीत सिंह पुलिस पार्टी सहित मौके पर पहुंच गए। बैंक मैनेजर के आश्वासन के बाद किसानों की ओर से रोष धरना समाप्त कर दिया गया।

मंगलवार को भवानीगढ़ ब्रांच पीएडीबी के फील्ड अधिकारी जगतार सिंह, सहायक मैनेजर तरसेम सिंह गांव घराचों के किसान गुरचरन सिंह के पास कर्ज की किश्तें वसूलने के लिए आए थे। परंतु वहां पर किसान यूनियन के अधिकारियों का घेराव कर लिया। इस मौके भारतीय किसान यूनियन एकता उगराहां के नेता मनजीत सिंह घराचों ने कहा कि गांव के किसान गुरचरन सिंह ने तीन वर्ष पहले घर बनाने के लिए बैंक की ओर 8 लाख रुपए का लोन लिया था। किसान गुरचरन सिंह के भाई हरदेव सिंह ने भैंसे पालने के लिए 8 लाख रुपए का लोन लिया था। परंतु हरदेव सिंह की 13 भैंसे किसी कारण मर गई थी। जिसके तहत बैंक की ओर से किए गए बीमे में से सिर्फ 3 भैंसों की ही राशि हरदेव सिंह को मिली। दोनों भाईयों ने बैंक की कुछ किश्तें भरी व बाद में पंजाब सरकार की ओर से की गई कर्जा माफी के कारण किश्तें नहीं भरी। उन्होंने कहा कि 28 मई को हुई रैली में यूनियन ने फैसला लिया था कि यदि कोई बैंक अधिकारी वसूली को किसानों के घर आता है तो उसका घेराव किया जाएगा। बैंक मैनेजर कंवलदीप सिंह मौके पर पहुंचकर किसान नेताओं से बातचीत की। बैंक अधिकारी किसान के पास सिर्फ किश्त भरने की अपील करने के लिए आए थे।(लखविंदर)

घराचों में बैंक अधिकारियों की गाड़ी का घेराव करते भाकियू के सदस्य।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhawanigarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×