• Home
  • Punjab News
  • Bhawanigarh News
  • मुनि विजय कुमार का चातुर्मास हेतु संगरूर में प्रवेश, स्वागत किया
--Advertisement--

मुनि विजय कुमार का चातुर्मास हेतु संगरूर में प्रवेश, स्वागत किया

संगरूर| शासन श्री मुनि विजय कुमार, मुनि रमणीय कुमार व श्रमण श्री सिद्धप्रज्ञ ने बुधवार की सुबह साढ़े 6 बजे गांव...

Danik Bhaskar | Jun 22, 2018, 03:20 AM IST
संगरूर| शासन श्री मुनि विजय कुमार, मुनि रमणीय कुमार व श्रमण श्री सिद्धप्रज्ञ ने बुधवार की सुबह साढ़े 6 बजे गांव खुराना से विहार करके अपने चातुर्मासिक नगर संगरूर में प्रवेश किया है। इस दौरान शोभायात्रा में शहर के श्रद्धालुओं ने बड़ी संख्या में भाग लिया। सुनामी गेट स्थित तेरापंथ भवन में श्री मुनि विजय कुमार ने फरमाया कि वह चातुर्मास से लगभग एक महीना पहले संगरूर में पहुंच गए हैं। 260 किलोमीटर की पैदल यात्रा करते हुए हिसार से कैथल, चीका, समाना, पातड़ा व भवानीगढ़ में प्रवास करते हुए संगरूर में प्रवेश किया है। समाज को प्रेरणा देते हुए उन्होंने कहा कि संत बादल के समान होते हैं वे सर्वत्र समान रूप से बरसते हैं जिसका पात्र जितना बड़ा होता है वह उतना ही ग्रहण कर पाता है। हर व्यक्ति अपने भीतर ग्रहणशीलता को विकसित करें। इस अवसर पर श्रमण जी ने प्रेरणा देते हुए कहा कि संगरूर का जैन समाज बहुत ही जागरूक व तपस्या में काफी आगे सुना गया है लेकिन अब इस चातुर्मास में देखना चाहते हैं कि कौन कितनी तपस्या व धर्माराधना करता है। उन्होंने आगे फरमाया कि मुनि विजय कुमार एक बहुत ही विद्वान संत हैं। इस अवसर पर श्री विजय गुप्ता व सभा के पेटर्न अशोक सिंगला ने अपने विचार प्रकट करते हुए आने वाले चातुर्मास की सफलता की कामना की।

संगरूर में संत मुनि जी से आशीर्वाद लेते श्रद्धालु।