• Home
  • Punjab News
  • Chamkaur Sahib News
  • वक्फ का रेंट कलेक्टर बोला-5.84 लाख की जमीन 4 लाख में नाम कर दूंगा पर ढाई लाख लगेंगे, एक लाख लेते दबोचा
--Advertisement--

वक्फ का रेंट कलेक्टर बोला-5.84 लाख की जमीन 4 लाख में नाम कर दूंगा पर ढाई लाख लगेंगे, एक लाख लेते दबोचा

विजिलेंस अधिकारी आरोपी रेंट कलेक्टर सलीम बहादुर के साथ। सड़क से सटी कब्रिस्तान की जमीन को खरीदने चंडीगढ़ तक से आ...

Danik Bhaskar | May 12, 2018, 02:05 AM IST
विजिलेंस अधिकारी आरोपी रेंट कलेक्टर सलीम बहादुर के साथ।

सड़क से सटी कब्रिस्तान की जमीन को खरीदने चंडीगढ़ तक से आ रहीं पार्टियां, 4 लाख रुपए मरला है कीमत

शिकायतकर्ता राजेश खान ने दैनिक भास्कर से बातचीत करते हुए बताया कि उन्होंने यह सब अपने पूर्वजों की कब्रें बचाने के लिए किया क्योंकि वक्फ बोर्ड का रेंट कलेक्टर इस जमीन को किसी अन्य पार्टी को रिश्वत लेकर लीज पर देना चाहता था। उन्होंने बताया कि गांव भरतगढ़ से नालागढ़ जाने वाले मार्ग पर उनके पूर्वजों का कब्रिस्तान है जिसका रकबा करीब 32 कनाल था। इसमें से कुछ जगह सड़क में आ गई। कब्रिस्तान की बाकी जमीन के कई हिस्से वक्फ बोर्ड ने लीज पर दिए हुए हैं। कब्रिस्तान की जमीन रोड से सटी होने से उसपर लोगों ने दुकानें बना रखी हैं और यहां जमीन खरीदने के लिए चंडीगढ़ तक से कई पार्टी आ चुकी हैं। इससे इस जमीन की कीमत करोड़ों में है। खान ने अपील ने की कि मौजूद बाकी जगह की भी विजिलेंस को जांच करनी चाहिए ताकि उसे बचाया जा सके।

जानकारी देते शिकायतकर्ता राजेश खान।

भरतगढ़ के इस श्मशानघाट की जमीन को लेेकर वक्फ बोर्ड के रेंट कलेक्टर ने रिश्वत मांगी थी।

दो-दो हजार रुपए के 50 नोट देकर विजिलेंस ने भेजा था शिकायतकर्ता को रेंट कलेक्टर के पास किस्त देने

विजिलेंस के डीएसपी राकेश कुमार ने बताया कि शिकायतकर्ता राजेश खान पुत्र काला खान वासी भरतगढ़ ने शिकायत दी थी कि वह गांव में वक्फ बोर्ड की पड़ी हुई 6 मरले जगह को पट्‌टे पर लेकर वहां दुकानें बनाना चाहता है पर जमीन पट्‌टे पर देने के लिए वक्फ बोर्ड रोपड़ दफ्तर में तैनात रेंट कलेक्टर सलीम बहादुर उनसे ढाई लाख की रिश्वत मांग रहा है। शिकायत के बाद उनकी टीम ने आरोपी को पकड़ने के लिए ट्रैप लगाया और राजेश खान को उसे पहली किस्त में एक लाख रुपए देने के बहाने उसके पास भेजने की योजना बनाई। शुक्रवार को राजेश खान ने जैसे ही दो-दो हजार रुपए के पचास नोट, जिनपर रंग लगा हुआ था, आरोपी सलीम बहादुर पुत्र इकबाल मुहम्मद निवासी अंबाला को थमाए उनकी पार्टी ने उसे दबोच लिया।

पूर्व फौजी ने वीडियो बनाई तो विजिलेंस ने ले लिया फोन, गलती मानने पर लौटाया

पंजाब वक्फ बोर्ड रोपड़ में विजिलेंस की रेड से हड़कंप मच गया। इस दौरान वहां परा काम करवाने आए लोग इस मामले को समझ नहीं सके। वहां पर काम करवाने आए पूर्व सैनिक अवतार सिंह वासी फतेहपुर महतोतां चमकौर साहिब इस घटनाक्रम को मोबाइल में कैद करने लगा तो सादी वर्दी में आई विजिलेंस की टीम ने उसका फोन ले लिया। उसने अपनी गलती स्वीकार की तो उसका फोन लौटा दिया गया।