चंडीगढ़ जिला

--Advertisement--

7 साल की बेटी से रेप करने वाले पिता को 15 साल की कैद, सजा के बाद पत्नी बोली- वो बेकसूर थे

इस केस में दोषी के खिलाफ उसी की पत्नी ने शिकायत दी थी।

Dainik Bhaskar

May 30, 2018, 12:10 AM IST
Father behind bars for harassing his own daughter

चंडीगढ़. अपनी 7 साल की बेटी को हवस का शिकार बनाने वाले पिता को डिस्ट्रिक कोर्ट ने 15 साल की सजा सुनाई है। एडिशनल डिस्ट्रिक्ट एंड सेशंस जज पूनम आर जोशी की कोर्ट ने पिता को दोषी ठहराया था। कोर्ट ने एक लाख 5 हजार जुर्माना भी लगाया है। दोषी पिता के खिलाफ बेटी की मां ने ही शिकायत दी थी, हालांकि कोर्ट में गवाही के दौरान वह अपने बयानों से मुकर गई थी, लेकिन 7 साल की बच्ची ने अपने बयान नहीं बदले। उसने जज को भी वही बताया जो पुलिस और मजिस्ट्रेट को बताया था।

16 अक्टूबर 2017 को महिला ने अपने पति के खिलाफ शिकायत दी थी कि वह 7 साल की बेटी के साथ शारीरिक छेड़छाड़ करता है। शिकायत में कहा था कि वह प्राइवेट जॉब करती है और उसका पति ढोल बनाने का काम करता है। उनके दो बच्चे हैं। बेटी की उम्र 7 साल है और एक बेटा है जिसकी उम्र 8 साल है।

एक दिन उसने काम से छुट्‌टी की और वह घर पर ही थी। शाम को बेटी ने बताया कि उसके पेट में दर्द है, जिसके चलते वह बेटी को पीजीआई ले आई। रास्ते में बेटी ने बताया कि दो दिन पहले जब घर पर कोई नहीं था तो पापा ने उसके साथ गलत हरकत की। बेटी ने ये भी कहा कि पापा ने बोला था कि किसी को बताया तो पिटाई करेंगे। बेटी के बताने पर महिला ने पति के खिलाफ सेक्टर-11 थाना पुलिस को शिकायत दी। पुलिस ने शिकायत पर पति के खिलाफ केस दर्ज किया।

सजा के बाद भी पत्नी बोली-पति बेकसूर थे
इस केस में दोषी के खिलाफ उसी की पत्नी ने शिकायत दी थी। हालांकि, वह कोर्ट में मुकर गई और सोमवार को भी वह कोर्ट में मौजूद थी। सजा का फैसला आने के बाद वह रोते हुए बोली कि उसके पति बेकसूर थे। उसने कहा कि शिकायत तो डॉक्टर ने दी थी जिसके पास वह बेटी को चेक करवाने आए थी। पत्नी ने कहा कि पुलिस भी यही कह रही थी कि अगर वे शिकायत नहीं देगी तो उसे भी फंसा देंगे।

X
Father behind bars for harassing his own daughter
Click to listen..