Hindi News »Punjab »Dasua» 15 साल विदेश में रहे, लौटने पर मन में सेवा का ख्याल आया तो लोगों को गली-गली जाकर पानी पिलाने लगे तजिंदर सिंह

15 साल विदेश में रहे, लौटने पर मन में सेवा का ख्याल आया तो लोगों को गली-गली जाकर पानी पिलाने लगे तजिंदर सिंह

दसूहा के अलग-अलग गली मोहल्लों, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन पर स्पीकर पर एक आवाज सुनाई देती है- ‘फ्री जल सेवा आपके पास...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 06, 2018, 02:01 AM IST

15 साल विदेश में रहे, लौटने पर मन में सेवा का ख्याल आया तो लोगों को गली-गली जाकर पानी पिलाने लगे तजिंदर सिंह
दसूहा के अलग-अलग गली मोहल्लों, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन पर स्पीकर पर एक आवाज सुनाई देती है- ‘फ्री जल सेवा आपके पास पहुंच गई है। कोई भी माई-भाई ठंडा जल पी सकता है।’

यह आवाज दसूहा के मोहल्ला जापानी कॉलोनी के तजिंदर सिंह की है, जो गर्मियों के मौसम में गली-गली घूमकर लोगों को पानी पिलाने की सेवा करते हैं। तजिंदर सिंह करीब 15 साल विदेश में रहे हैं। वहां से लौटकर यह सेवा शुरू की है। तजिंदर सिंह ने बताया कि उसने फ्री जल सेवा 2017 में अपने स्व. माता पिता के आशीर्वाद और दसम पिता श्री गुरु गोबिंद सिंह जी के मानवता की सेवा के संदेश को घर-घर पहुंचाने और भाई घन्हैया जी से प्रेरित होकर शुरू की थी। उन्होंने एक गाड़ी खरीद कर उसमें 850 लीटर पानी का टैंक रख है और उसमें बर्फ डाल कर ठंडे जल की सेवा शुरू की है। वह सुबह 9 बजे घर से निकलते हैं और सारा दिन अलग-अलग जगहों पर घूमते हुए सेवा करते हैं। उन्होंने बताया कि गाड़ी तथा टैंक बनाने पर तकरीबन पांच लाख का खर्च हुआ है। अगले वर्ष से वह अपना फ्रिज लेने का भी सोच रहे हैं ताकि बर्फ भी घर की ही डाल सकें। तजिंदर सिंह ने बताया कि उनके घर में उनकी प|ी राजेंद्र कौर, दो बेटे 13 वर्ष का कर्मप्रीत, 9 वर्ष का सरबजीत सिंह है। उन्होंने यह भी बताया कि वह किसी से भी कोई सहायता नहीं लेते।

भाई घन्हैया जी प्रेरित होकर दसूहा में तजिंदर सिंह कर रहे हैं जल सेवा

अपने परिवार के साथ तजिंदर सिंह। -भास्कर

15 साल रहे विदेश में

तजिंदर सिंह ने बताया कि उनके पिता सेवा सिंह सेना में थे। वह भी 88-89 में सेना में भर्ती हुए लेकिन 1993 में सेना की नौकरी छोड़ दी। फिर 1996 से 2001 तक जर्मन चले गए, 2001 से 2011 तक स्पेन में रहे। इसके बाद सेहत खराब होने की वजह से वापस आ गए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dasua

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×